वाकई, ऊंची खिलाड़ी निकली कांग्रेस की चर्चित नेत्री रितु

राहुल गांधी के बराबर में बैठी रितु कांडियाल का फाइल फोटो
राहुल गांधी के बराबर में बैठी रितु कांडियाल का फाइल फोटो

                                                               किरन कांत

यौन शोषण और ब्लेकमेलिंग के चर्चित अपर सचिव जेपी जोशी प्रकरण में चर्चित कांग्रेस नेत्री रितु कांडियाल का नाम भी प्रकाश में आ रहा है, लेकिन पुलिस अभी कुछ भी कहने से बच रही है। सूत्रों का यह भी कहना है कि चर्चित नेत्री रितु को पुलिस बचाने का भी प्रयास कर रही है। हालांकि दुबई में ही रितु से एएसपी ममता बोहरा ने पूछताछ की है, पर इस पूछताछ का अभी कोई नतीजा नहीं निकला है।
उल्लेखनीय है कि नवंबर माह में दिल्ली में जेपी जोशी के विरुद्ध यौन शोषण करने की जीरो नंबर एफआईआर दर्ज कराई गई थी, जिसे बाद में दून की शहर कोतवाली में दर्ज कर दिया गया। इस मुकदमे के बाद जेपी जोशी द्वारा भी 23 नवंबर को देहरादून के वसंत विहार थाने में एक युवती समेत तीन लोगों पर ब्लैकमेल करने, बदनाम करने, जान से मारने की धमकी देने की धाराओं और आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस प्रकरण में जेपी जोशी की गिरफ्तारी हो चुकी है, साथ ही उन्हें निलंबित भी कर दिया गया है। इसी तरह यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली युवती को भी एक साथी सहित पुलिस ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है।

नारायण दत्त तिवारी के साथ रितु कांडियाल का फाइल फोटो
नारायण दत्त तिवारी के साथ रितु कांडियाल का फाइल फोटो

पुलिस महानिदेशक बीएस सिद्धू ने इस प्रकरण को दो दिन बाद ही सुलझाने का दावा किया था। उन्होंने कहा कि 20 अक्टूबर को नैनीताल में युवती के साथ दो अन्य युवक अमित गर्ग निवासी देहरादून व नीरज चौहान निवासी सहारनपुर भी थे। इन दोनों ने ही युवती को सीडी बनाने के लिए उपकरण दिए थे, साथ ही पुलिस गेस्ट हाउस के कमरा नंबर-एक में नीरज चौहान ने कैमरा लगाया था।

सोनिया गाँधी के साथ रितु कांडियाल का फाइल फोटो
सोनिया गाँधी के साथ रितु कांडियाल का फाइल फोटो

मुकदमे की गुत्थी सुलझने के बाद चौंकाने वाला सच सामने आया है। ब्लेकमेल करने की स्क्रिप्ट के पीछे कांग्रेस नेत्री रितु कांडियाल का नाम सामने आने से अधिकाँश लोग स्तब्ध हैं। सूत्रों के अनुसार पुलिस भी उनकी अहम भूमिका मान रही है, लेकिन कार्रवाई के नाम पर अभी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है, वहीं रितु खुद को अभी निर्दोष बता रही हैं और कह रही हैं कि वह उस युवती को फेसबुक से ही जानती हैं, इससे अधिक उनका कोई परिचय नहीं है। उन्होंने फेसबुक पर लिखा है कि वह मार्च में भारत आयेंगी और पुलिस को सहयोग करती रहेंगी, लेकिन सूत्रों का कहना है कि युवती से जेपी जोशी की मुलाक़ात रितु ने ही कराई थी और वीडियो बनने के बाद पैसे की मध्यस्थता रितु ही कर रही थीं।

सूत्रों का यह भी कहना है कि रितु की छवि बहुत अच्छी नहीं है, लेकिन उनके संबंध कांग्रेस के अधिकाँश बड़े नेताओं से हैं और उनकी बात पार्टी के बड़े नेता मानते भी हैं, इसलिए देखने की ख़ास बात यह है कि वे बड़े नेता रितु को बचाते हैं या नहीं और पुलिस रितु के प्रभाव में आती है या नहीं?

राहुल गांधी के साथ दरबाजे से बाहर निलती रितु कांडियाल का फाइल फोटो
राहुल गांधी के साथ दरबाजे से बाहर निकलती रितु कांडियाल का फाइल फोटो

Leave a Reply