लैपटाप बंटने का सिलसिला खत्म नहीं होगा: रामगोपाल

  • विकास की योजनाओं को बदायूं तक लाने में कोई कसर बाकी नहीं रहेगी: धर्मेन्द्र

IMG_5992

प्रदेश के मुख्य मंत्री अखिलेश यादव की महात्वाकांक्षी लैपटाप वितरण योजना के तहत जनपद के 8147 विद्यार्थियों का सपना लैपटाप पाकर साकार हो गया। अब वह इंटरनेट के माध्यम से अपने ज्ञान को बढ़ाकर नवीनतम टेक्नालाजी के माध्यम से अपना भविष्य उज्जवल बना सकते हैं। बदायूं के हाफिज सिद्दीक इस्लामियां इण्टर कालेज में आयोजित लैपटाप वितरण समारोह में प्रोफेसर रामगोपाल यादव एवं जनपद प्रभारी एवं खेलकूद, युवा कल्याण, वाह्य सहायतित परियोजना व समग्र ग्राम विकास विभाग के राज्य मंत्री माननीय राम करन आर्य के कर-कमलों द्वारा लैपटाप्स का वितरण किया।
मुख्य अतिथि के रूप में प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने वायदों को पूरा करके लैपटाप का वितरण कराया जा रहा है और यह सिलसिला खत्म होने वाला नहीं है। उन्होंने कहा लैपटाप नवीनतम टैक्नालॉजी का अदभुत भण्डार है, इसका सदुपयोग करके भविष्य में चारचांद लगाकर सपनों को साकार किया जा सकता है। उन्होंने मद्रास, मुबई और दिल्ली के सम्पन्न स्थानों और वहां के छात्र-छात्राओं को उपलब्ध सुविधाओं का जिक्र करते हुए कहा कि अब लैपटाप के माध्यम से छोटे शहरों के विद्यार्थी भी ज्ञान अर्जित करने में किसी से पीछे नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि लड़कों की अपेक्षा लड़कियां भी सीखने में पीछे नहीं हैं। उन्होंने विकास कार्यों की चर्चा करते हुए कहा कि बदायूं के सांसद धर्मेन्द्र यादव के प्रयासों से ही जनपद बदायूं को मेडीकल कालेज मिला है जिससे हजारों लोग अपना कारोबार कर के रोजी-रोटी कमा सकते है। उन्होंने कहा कि जनपद का पिछड़ापन दूर कर शीघ्र ही विकास के मामले में जनपद को आगे लाना है। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में टेबलेट पीसी उपलब्ध कराने को कोई कम्पनी तैयार नहीं है, इसमें तमाम प्रकार की व्यवहारिक कठिनाईयां सामने हैं, इनको दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लैपटाप वितरण में देरी से बंटने का कारण भी यही था। बदायूं जनपद प्रभारी एवं खेलकूद, युवा कल्याण, वाह्य सहायतित परियोजना व समग्र ग्राम विकास विभाग के राज्य मंत्री राम करन आर्य ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हमारा देश अमरिका और चीन से टैक्नालॉजी में अभी पीछे है, लेकिन लैपटाप प्राप्त कर अब हमारे प्रदेश के युवा बच्चे भी तकनीकी क्षे़त्र नया इतिहास बनाएंगे। उन्होंने कहा कि गरीब और किसान ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन उनके बच्चे भी लैपटाप के माध्यम से पढ़ाई कर आगे बढ़ सकेंगे। मंत्री ने कहा कि आज बेटियां भी शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राएं लैपटाप के माध्यम से ज्ञान अर्जित कर तकनीकी क्षेत्र में आगे बढ़ें और अपने सपनों को साकार करें।

एक छात्रा को लैपटाप देते प्रो. रामगोपाल यादव
एक छात्रा को लैपटाप देते प्रो. रामगोपाल यादव

बदायूं लोक सभा क्षेत्र के सांसद धर्मेंन्द्र यादव ने कहा कि लम्बे समय से लैपटाप्स का इंतजार कर रहे लाभार्थियों का सपना साकार हो गया। उन्होंने कहा कि जनपद के विकास और तरक्की के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन योजनाओं तथा परियोजनाओं पर काम चल रहा है उन्हें हरहाल में पूरा कराया जाएगा। अन्त में उन्होंने सफल कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन को बधाई दी।

समारोह का आगाज मुख्य अतिथि, अध्यक्ष एवं सांसद द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर हुआ। जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलवीर सिंह यादव, मुख्य विकास अधिकारी जयन्त कुमार दीक्षित ने अतिथियों का स्वागत किया। समारोह में विभिन्न स्कूल के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को मंत्र-मुग्ध कर दिया। कार्यक्रम का संचालन सुहेल सिद्दीकी एवं बीडी गुप्ता ने किया। इस अवसर पर राज्य पिछड़ा वर्ग आयेाग के अध्यक्ष राम आसरे विश्व कर्मा, उ0प्र0 न्यूनतम मजदूरी सलाहकार बोर्ड, श्रम विभाग के अध्यक्ष (राज्य मंत्री स्तर) प्रदीप यादव, विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव, शहर विधायक आबिद रजा, सहसवान के विधायक ओमकार सिंह यादव, बिसौली के विधायक आशुतोष मौर्य, शेखूपुर के विधायक आशीष यादव, आवंला के पूर्व सांसद सर्वराज सिंह, दातागंज के पूर्व विधायक प्रेम पाल सिंह यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण मौजूद रहे।

कुल 23 डिग्री कालेजों के 8147 छात्र-छात्राएं हुई लाभाविंत

इस्लामियां इंटर कालेज के मैदान में उपस्थित छात्र-छात्रायें
इस्लामियां इंटर कालेज के मैदान में उपस्थित छात्र-छात्रायें

वर्ष 2012 में कक्षा बारहवीं उत्तीर्ण राजकीय, अशासकीय एवं वित्तविहीन 23 महा विद्यालयों के 8147 छात्र-छात्राओं को समारोह में लैपटाप वितरित कर लाभांन्वित किया गया । स्टेज पर बुलाकर सहसवान के मदरसा अफजल उल उलूम, गिन्दो देवी महा विद्यालय तथा ऐश इंस्टीयूट ऑफ मैनेजमेन्ट एण्ड टैक्नालाजी, बदायूं के विद्यार्थियों को मुख्य अतिथि प्रोफेसर रामगोपाल यादव, जनपद प्रभारी एवं खेलकूद विभाग के राज्य मंत्री रामकरन आर्य, बदायूं के सांसद धर्मेन्द्र यादव सहित अन्य प्रतिनिधियों द्वारा वितरित किए गए।
इस्लामियां इण्टर कालेज में आयोजित लैपटाप वितरण कैम्प में मदरसा अफजल उल उलूम की शहाना दिलशाद, नियाज बानो, आसिर, रूखसार अर्शी, मो0 मुजस्सिम हुसैन सहित 14 तथा गिन्दो देवी महा विद्यालया की फरहा कुरैशी, ज्योति भारद्वाज, हिरा नाज़, आनामिका पटेल, हनी गुप्ता, सलौनी मौर्य, शिल्पी साहू सहित 16 एवं ऐश इंस्टीयूट ऑफ मैनेजमेन्ट एण्ड टैक्नालाजी, बदायूं की आकांक्षा पाठक, लालिमा शर्मा, अंकित मदन, गोरव वघेल, बसु वैश्य सहित 20 छात्र छात्राओं को स्टेज पर लैपटाप वितरित किए गए।
समारोह में राजकीय महाविद्यालय के 616, एनएमएसएनदास कालेज के 884, गिन्दो देवी डिग्री कालेज के 529, कछला के जीबी पन्त महाविद्यालय के 375, गुरूकुल संस्कृत महा विद्यालय सूर्य कुण्ड के 19, सनातन धर्म महा विद्यालय के 11, संस्कृति महा विद्यालय वैदिक विद्यापीठ के 31, उझानी के एपीएस डिग्री कालेज के 1243, आसिम सिद्दीकी मैमोरियल डिग्री कालेज के 133, बीआईएमटी के 64, उझानी के बांके बिहारी महाविद्यालय के 234, ऐश इंस्टीयूट ऑफ मैनेजमेन्ट एण्ड टैक्नालाजी के 190,  दहगवां के पुरूषोत्तम लाल शर्मा महाविद्यालय के 368, सहसवान के डीपी महाविद्यालय के 261, सहसवान के मदरसा अफजल उल उलूम के 24, अम्बियापुर के महाराणा प्रताप राजकीय महा विद्यालय के 399, इस्लामनगर के हरीराम सत्य नारायन इंस्टीयूट के 64, इस्लामनगर के केसरी चौधरी बदन सिंह डिग्री कालेज के 626, अलापुर के आत्माराम महा विद्यालय के 467, मुस्लिम डिग्री कालेज ककराला के 340, बिसौली के दमयन्ती राज आनंद राजकीय महा विद्यालय के 586, बनकोटा के ख्वाजा गरीब नवाज डिग्री कालेज के 150 तथा सैदपुर के सय्यद डिग्री कालेज के 533 छात्र-छात्राओं को लैपटाप वितरित किए गए।

One Response to "लैपटाप बंटने का सिलसिला खत्म नहीं होगा: रामगोपाल"

  1. pratyaksha   August 27, 2013 at 6:35 PM

    gud news.

    Reply

Leave a Reply