लाश ने खुद खोला अपनी हत्या का राज़

लाश ने खुद खोला अपनी हत्या का राज़
लाश ने खुद खोला अपनी हत्या का राज़

उसे चुपके से मौत की नींद सुला दिया गया था। न कोई वादी था और न ही कोई गवाह, पर लाश खुद ही वादी बन गई और खुद ही गवाह। लाश के कब्र से बाहर आते ही आम आदमी के साथ पुलिस के अफसरों की भी सासें थम गईं। पुलिस ने परिजनों के विरुद्ध हत्या और हत्या के बाद सुबूत नष्ट करने का मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है।

हृदय विदारक घटना जनपद बदायूं में सहसवान कोतवाली क्षेत्र के गांव भवानीपुर की है। गुजरे शनिवार को यहाँ एक सोलह वर्षीय किशोरी की अचानक मौत हो गई। परिजनों ने लोगों को बताया कि अचानक छत से गिरने से किशोरी की मृत्यु हो गई और आनन-फानन में उसे कब्रिस्तान में दफना दिया। घटना के बारे में खुल कर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं था। न ही कोई वादी था और न ही कोई गवाह। शायद, घटना से कभी पर्दा नहीं उठता, पर बात मीडिया तक पहुँच गई, तो पुलिस को कब्र से लाश निकालनी पड़ी। लाश बाहर आते ही पुलिस सहित सब स्तब्ध रह गये, क्योंकि लाश पर गोलियों के निशान थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने से मौत की पुष्टि भी हो गई, तो पुलिस ने हत्या और हत्या के बाद सुबूत मिटाने का मुकदमा दर्ज कर लिया। मुकदमा लिखने के बाद से मृतका के परिजन फरार हैं। पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया ऑनरकिलिंग का मामला प्रतीत हो रहा है, वहीं सूत्रों का कहना है कि लगभग सोलह वर्षीय किशोरी की हत्या के पीछे कारण प्रेम-प्रसंग ही है और सम्मान की खातिर ही किशोरी की हत्या की गई है।

 छात्रा को धोखे से बनाया गर्भवती

बदायूं में ही शादी का झांसा देकर शादीशुदा युवक ने एक छात्रा से अवैध संबंध स्थापित कर लिए। छात्रा चार माह से गर्भवती है और अब वह शातिर दिमाग इंसान गायब है। मामला पुलिस तक पहुँच गया है। सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव अढ़ौली निवासी एक छात्रा के घर मुजरिया थाना क्षेत्र के गांव कटैय्या निवासी अखिलेश पुत्र साहब सिंह का लगभग एक साल से जाना शुरू हो गया। आरोप है कि अखिलेश ने स्वयं को अविवाहित बताते हुए शादी की बात कर ली, जिससे छात्रा से उसके जिस्मानी संबंध बन गये। छात्रा की मां का आरोप है कि टाटा मैजिक खरीदने के लिए उसकी जमीन गिरवी रखवाकर उसने 90 हजार रुपये भी ले लिए। अब पता चला है कि अखिलेश पहले से ही विवाहित है और उसके घर में पत्‍‌नी व दो बच्चे भी हैं, लेकिन उसने छात्रा को भी गर्भवती कर दिया है। मां-पुत्री ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की।

 एमए की छात्रा का अपहरण

बदायूं में ही थाना अलापुर क्षेत्र के ग्राम चितौरा निवासी एमए की एक छात्रा 28 अक्टूबर 2012 को अचानक गायब हो गयी। गायब छात्रा के परिजनों ने उसे तलाशने का प्रयास किया, लेकिन सुराग नहीं लगा पाए। पिता ने गाँव के ही तीन सगे भाइयों सहित चार लोगों के विरुद्ध अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोप है कि छात्रा 28 अक्टूबर को शाम के वक्त घर के बाहर गई थी, तभी चारों आरोपी उठा ले गये।

Leave a Reply