लाभ के पद पर हैं प्रणब : संगमा का दावा

पीए संगमा ने राष्ट्रपति पद के लिए यूपीए के उम्मीदवार प्रणब मुखर्जी पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा है कि पूर्व वित्त मंत्री अब भी लाभ के पद पर हैं। राष्ट्रपति के चुनाव में प्रणब को चुनौती दे रहे बीजेपी समर्थित उम्मीदवार संगमा ने कहा है कि प्रणब मुखर्जी भारतीय सांख्यिकी संस्थान के अध्यक्ष हैं।

संगमा का दावा है कि यह लाभ का पद है इसलिए वे राष्ट्रपति पद के लिए अयोग्य हैं और उनका नामांकन रद्द होना चाहिए। राष्ट्रपति चुनाव के लिए चुनाव अधिकारी बनाए गए राज्यसभा के सेक्रेटरी जनरल को अपने वकील सतपाल जैन की ओर से भेजी गई शिकायत में मांग की गई है कि लाभ के पद के कानून के तहत प्रणब मुखर्जी का नामांकन रद्द किया जाए। जनता पार्टी के सुब्रमण्यम स्वामी ने भी संगमा का समर्थन करते हुए प्रणब का नामांकन रद्द करने की मांग की है।

Leave a Reply