रुआंसे आसाराम ने कहा कि अब तो अति हो गई

  • पीड़ित छात्रा की मांग पर हो सकता है नार्को टेस्ट
दुराचार का आरोपी कथित धर्म गुरु आसाराम
दुराचार का आरोपी कथित धर्म गुरु आसाराम

शाहजहांपुर निवासी नाबालिग छात्रा का छिन्दवाड़ा स्थित आश्रम में यौन शोषण करने का आरोपी कथित धर्म गुरु आसाराम की सोच में अब भी परिवर्तन नहीं आया है। चेहरे पर कानून का भय तो दिख रहा है, लेकिन शर्म और पश्चाताप का एक चिन्ह तक नज़र नहीं आ रहा। आसाराम ने बेशर्मी के साथ आज फिर कहा कि पुलिस ने परेशान करने की अति कर दी है।

जोधपुर की सेंट्रल जेल में बंद आसाराम का सोमवार को जोधपुर के ही मथुरा दास माथुर अस्पताल में एमआरआई परीक्षण कराया गया था। मेडिकल परीक्षण के दौरान आसाराम के चेहरे पर कानून का भय स्पष्ट नज़र आ रहा था। जांच के समय ब्लड सैंपल देने का नंबर आया, तो आसाराम की घबराहट और बढ़ गई। आसाराम ने ब्लड सैंपल देने से मना कर दिया, साथ ही आसाराम ने पुलिस पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया। रुआंसे आसाराम ने कहा कि अब तो अति हो गई है।

उधर आसाराम का नार्को टेस्ट कराने की भी कुछ लोग मांग कर रहे हैं, लेकिन यह मांग पीड़ित छात्रा की ओर से अभी तक नहीं की गई है। माना जा रहा है कि पीड़ित छात्रा की मांग पर पुलिस आसाराम का नार्को टेस्ट भी करा सकती है, ऐसा हुआ, तो और भी कई राज खुलने की संभावना जताई जा रही है।

संबंधित ख़बरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

नित्यानंद और चिन्मयानंद की सूची में आसाराम भी शामिल

कथित धर्म गुरु आसाराम का जेल से निकलना मुश्किल

कथित धर्म गुरु आसाराम की जमानत अर्जी खारिज