यूपी पुलिस ने हिरासत में लिए योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ

भारतीय जनता पार्टी के तेजतर्रार वरिष्ठ सांसद और गोरखपुर पीठ के उत्तराधिकारी संत योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि उन्हें जिला अंबेडकर नगर के प्रशासन के अनुरोध पर हिरासत में लिया गया है।

गोरखपुर से सांसद और हिंदूवादी नेता योगी आदित्यनाथ को गाजियाबाद पुलिस ने स्टेशन पर ट्रेन से उतार कर हिरासत में लिया है। गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि योगी को अंबेडनगर जिला प्रशासन के अनुरोध पर हिरासत में लिया गया है। योगी के साथ हुई कार्रवाई की भनक लगते ही भाजपा के तमाम कार्यकर्ता मौके पर आ गये और उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया, वहीं योगी का आरोप है कि पुलिस ने उनके साथ अभद्रता की है।

उल्लेखनीय है कि जिला अंबेडकरनगर के कस्बा टांडा निवासी हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष रामबाबू गुप्ता की हत्या पर योगी आदित्यनाथ ने ईट से ईट बजा देने की चेतावनी दी थी। उन्होंने प्रेस नोट जारी कर कहा था कि रामबाबू की हत्या प्रायोजित षड्यंत्र है। योगी ने घटना में समाजवादी पार्टी के एक विधायक और प्रशासन की भूमिका को संदिग्ध बताया था और चेतावनी दी थी कि शीघ्र गिरफ्तारी नहीं हुई, तो इसके गंभीर परिणाम होंगे। उधर रामबाबू की हत्या को लेकर टांडा और आसपास के कस्बों में तनाव बना हुआ है।