मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सैफई में जनसमस्यायें सुनीं

  • मुख्यमंत्री ने मैनपुरी जनपद के विकास के लिए 434 करोड़ 28 लाख 37 हजार रुपए की लागत से निर्मित होने वाली 27 परियोजनाओं का शिलान्यास किया
 
  • सत्ता में आते ही जनता से घोषणा पत्र में किए गए वायदों को पूरा करने का काम अल्प समय में ही किया: मुख्यमंत्री 
 
मैनपुरी में आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
मैनपुरी में आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मैनपुरी जनपद के सर्वांगीण विकास के लिए राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज सहित कुल 27 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं की निर्माण लागत 434 करोड़ 28 लाख 37 हजार रुपए होगी। शिलान्यास के अवसर पर सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने क्रिश्चियन कॉलेज मैदान में विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार ने सत्ता में आते ही जनता से घोषणा पत्र में किए गए वायदों को पूरा करने का काम अल्प समय में ही किया। आज प्रदेश का किसान सिंचाई हेतु मुफ्त पानी पाकर, गरीब छात्राएं कन्या विद्याधन, हमारी बेटी उसका कल योजना का लाभ पाकर तथा शिक्षित बेरोजगार बेरोजगारी भत्ता पाकर खुश है। प्रदेश सरकार ने ऐसे किसानों, जिन्होंने अपनी उपजाऊ भूमि को बंधक रखकर बैंक से कर्जा लिया था, उनके 50 हजार रुपए तक के कर्जे माफ करने का भी वायदा पूरा किया है। उत्तर प्रदेश के हर वर्ग को जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिला है।
उदघाटन करते सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव और साथ में मौजूद वरिष्ठ मंत्री आजम खां
उदघाटन करते सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और साथ में मौजूद वरिष्ठ मंत्री आजम खां
श्री यादव ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने जनता का धन मूर्तियों, स्मारकों व पार्कों पर व्यय किया, जबकि समाजवादी सरकार ने जनता के पसीने की गाढ़ी कमाई को योजनाओं के माध्यम से वापस करने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि दूसरे प्रदेश की सरकारें उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण योजनाओं की नकल कर रहीं हैं। प्रदेश सरकार ने महानगरों के साथ-साथ छोटे जनपदों व ग्रामीण अंचलों के विकास पर भी पूरा ध्यान दिया है। अधिकांश धनराशि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास पर व्यय की गई। आजमगढ़, जालौन, सैफई और बुन्देलखण्ड में मेडिकल कॉलेज संचालित किए गए, जिससे ग्रामीणों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि छात्रों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने की व्यवस्था की गई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश व देश की जनता समाज में नफरत फैलाने वाले लोगों को करारा जवाब देगी। उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों व लोकप्रियता से घबराकर विरोधी दुष्प्रचार कर सरकार को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं। वे जनता को दिग्भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री द्वारा जनपद मैनपुरी के सर्वांगीण विकास हेतु शिलान्यास की गई परियोजनाओ में 5942.67 लाख रुपए की लागत से राजकीय इन्जीनियरिंग कॉलेज 22634.98 लाख की लागत से इटावा-मैनपुरी-कुरावली राजमार्ग को फोरलेन चैड़ीकरण का कार्य, 2298.57 लाख रुपए की लागत से शीतला माता मंदिर से घण्टाघर चौराहे तक मार्ग का चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण एवं सौन्दर्यीकरण का कार्य, 1866.67 लाख रुपए की लागत से 132 के0वी0 विद्युत उपकेन्द्र कुसमरा-मैनपुरी के निर्माण कार्य शामिल हैं।
श्री यादव ने 1866.67 लाख रुपए की लागत से कुरावली-मैनपुरी में 132 के0वी0 विद्युत केन्द्र, 2511.93 लाख रुपए की लागत से भावत चौराहे से क्रिश्चियन तिराहा होते हुए ईशान नदी पुल तक मार्ग का सुदृढ़ीकरण एवं सौन्दर्यीकरण का कार्य, 1588.12 लाख रुपए की लागत से मैनपुरी निरीक्षण भवन से पुलिस लाइन एवं ट्राजिट हास्टल होते हुए नगला पजावा तक चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण तथा सौन्दर्यीकरण का कार्य, 788.31 लाख रुपए की लागत से मैनपुरी-सिरसागंज मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 698.06 लाख रुपए की लागत से शिकोहाबाद-भोगाव राजमार्ग, ईशान नदी सेतु से जेल चैराहे तक मार्ग का चौड़ीकरण/सुदृढ़ीकरण तथा सौन्दर्यीकरण का कार्य, 595.35 लाख रुपए की लागत से किशनी विधानसभा क्षेत्र के ब्लाक जागीर में दिवन्नपुर-अजीतपुर मार्ग पर सेतु पहुंच मार्ग, अतिरिक्त पहुंचमार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य का भी शिलान्यास किया।
मुख्यमंत्री ने 154.17 लाख रुपए की लागत से ऐमनपुर मार्ग कि0मी0 चार से गुरुदयाल होते हुए छौलामार्ग के निर्माण, 135.91 लाख रुपए की लागत से नरायनपुर से ऐमनपुर मार्ग के निर्माण, 119.26 लाख रुपए की लागत से कांसेपुर से तिलियानी के पास सड़क तक वाया मलहौआ मार्ग के निर्माण, 132.91 लाख रुपए की लागत से महलोई से नगला मोती होते हुए थोरवा, बल्लमपुर मार्ग तक संपर्क मार्ग के निर्माण, 130.90 लाख रुपए की लागत से घिरोर, कुरावली मार्ग से मार्ग आन्ध्रा होते हुए प्राथमिक विद्यालय थोरवा तक मार्ग का निर्माण, 124.92 लाख रुपए की लागत से राजलपुर से नगला मोहन संपर्क मार्ग का निर्माण, 107.63 लाख रुपए की लागत से तिमनपुर मार्ग से नहर की पटरी से प्रेमपुर होते हुए नगला झम्मन तक मार्ग का निर्माण, 111.30 लाख रुपए की लागत से मु0 बाग ब्रन्दावन करहल से आम तलैया से नगला सीताराम होते हुए कोठी अहलादपुर तक के मार्ग का निर्माण का शिलान्यास किया।
श्री यादव ने 107.84 लाख रुपए की लागत से भाॅवत-कुर्रा मार्ग पर सुल्तानपुर से दादपुर संपर्क मार्ग का निर्माण, 180.41 लाख रुपए की लागत से शिकोहाबाद-भोगांव राजमार्ग संख्या 84 मार्ग के कि0मी0 45 में (मण्डी के सामने) सीसी मार्ग का निर्माण, 341.92 लाख रुपए की लागत से शिकोहाबाद-भोगाँव राजमार्ग कि0मी0 84 पर स्थिति घिरोर आबादी भाग में सीसी रोड निर्माण का कार्य, 120.94 लाख रुपए की लागत से जनपद मैनपुरी के किशनी ब्लाक में आधुनिक निरीक्षण भवन का निर्माण, 187.07 लाख रुपए की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जागीर का निर्माण, 276.12 लाख रुपए की लागत से ग्राम भीखपुरा, ब्लाक किशनी में कानपुर शाखा के कि0मी0 35.38 पर पुल का निर्माण, 149.93 लाख रुपए की लागत से अहिरवा मार्ग कि0मी0 2 से नगला लऊ वाया नगला मुकुंद मार्ग का निर्माण, 105.97 लाख रुपए की लागत से सांडा मार्ग से शाहपुर मार्ग का निर्माण एवं 149.84 लाख रुपए की लागत से सिरसागंज किशनी मार्ग से जगन्नाथपुर टीन नसीरपुर मार्ग का शिलान्यास किया।
शिलान्यास के अवसर पर नगर विकास मंत्री मोहम्मद आजम खाँ, लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव, पंचायती राज मंत्री बलराम यादव, बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविन्द चौधरी, परिवहन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव, भूतत्व एवं खनिकर्म राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गायत्री प्रसाद प्रजापति, सांसद प्रो. रामगोपाल यादव, सांसद धर्मेन्द्र यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव, नगर विकास मंत्री मोहम्मद आजम खाँ ने ग्राम दिलाखर में शहीद जितेन्द्र सिंह यादव एवं ग्राम गनेशपुर मे शहीद मेजर दीपक यादव की मूर्ति का अनावरण किया।
मुख्यमंत्री ने सैफई में लोगों से मुलाकात कर समस्याओं का समाधान किया
सैफई में निर्माण कार्यों का निरीक्षण करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
सैफई में निर्माण कार्यों का निरीक्षण करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सैफई लोक निर्माण निरीक्षण गृह पर आम जनता से मिलते हुए स्वयं उनके प्रार्थना पत्रों को लेकर सम्बन्धित अधिकारियों को निस्तारण के निर्देश दिए।
निरीक्षण भवन लोक निर्माण विभाग में भारी संख्या में उपस्थित लोगों से मुख्यमंत्री ने उनके पास जाकर मुलाकात की और उनके द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र/आवेदन पत्र को स्वयं लेकर पूरी बातचीत व पूछताछ कर सम्बन्धित अधिकारी को निस्तारित करने के निर्देश दिए। मिलने वालों में अन्य जनपदों के लोग भी शामिल थे। उन्होंने कहा कि जनसमस्या निस्तारण सरकार की प्राथमिकता है। लोगों द्वारा पुलिस भर्ती परीक्षा के सम्बन्ध में पूछने पर मुख्यमंत्री ने बताया कि दिसम्बर माह में परीक्षा आयोजित कराई जाएगी, जिसका निर्धारण कर दिया गया है। मिलने वालों में महिलाएं, युवा व बुजुर्ग सभी वर्ग के लोग उपस्थित थे। मुख्यमंत्री लगभग एक घण्टे से अधिक समय तक लोगों से मुलाकात कर बातचीत करते रहे। इस अवसर पर सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण मौजूद थे।
इसी तरह मुख्यमंत्री ने कल सैफई में निर्माणाधीन विकास कार्यों जी0जी0आई0सी0, अपना बाजार, ट्रामा सेण्टर, स्विमिंग पूल आदि का मौके पर जा कर अवलोकन किया। उन्होंने अधिकारियों से कार्यों को समय सीमा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने अपना बाजार के तैयार होते बेस को देखा। लगभग 32 करोड़ रुपए की लागत से 8 एकड़ एरिया में बाजर भवन का निर्माण किया जा रहा है। जी0जी0आई0सी0. निर्माण में भवन स्ट्रक्चर लगभग पूर्ण हो चुका है। ट्रामा सेन्टर का भी स्ट्रक्चर तैयार हो गया है। मुख्यमंत्री ने भवन की विभिन्न मंजिलों पर जाकर कार्य का अवलोकन किया। स्विमिंग पूल का बेस तैयार किया जा रहा है। निर्माण एजेंसी ने बताया कि अन्र्तराष्ट्रीय मानकों पर स्विमिंग पूल को तैयार करने हेतु कार्य योजना बनाई गई है। मुख्यमंत्री ने योजनाओं में अब तक उपलब्ध धनराशि एवं उसके सापेक्ष व्यय आदि की स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री के भ्रमण के दौरान सांसद धर्मेन्द्र यादव, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
सैफई में जनसमस्यायें समस्यायें सुनते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
सैफई में जनसमस्यायें समस्यायें सुनते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव