भूमि सुधार योजनाओं के कारण बढ़े रेट: आशीष

– 5198 हैक्टेयर कटरी भूमि को बनाया जाएगा उपजाऊ: डीएम

विकास भवन स्थित सभागार में उपस्थित विधायक आशीष यादव, डीएम और सीडीओ।
विकास भवन स्थित सभागार में उपस्थित विधायक आशीष यादव, डीएम और सीडीओ।

बदायूं क्षेत्र में रामगंगा कटरी की 5198 हैक्टेयर भूमि को उपजाऊ बनाने हेतु कार्ययोजना को जिलाधिकारी सी.पी. त्रिपाठी सहित शेखूपुर के विधायक आशीष यादव, मुख्य विकास अधिकारी जयन्त कुमार दीक्षित एवं अन्य प्रतिनिधिगणों ने अपनी मुहर लगाकर भूमि सुधार योजनाओं का अनुमोदन कर दिया है। कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने कहा है कि ऐसे कार्यों को जनपद के प्रतिनिधियों तथा उच्चाधिकारियों को मौका मुआयना अवश्य कराया जाए।

शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने कहा कि भूमि संरक्षण विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का ही यह नतीजा है कि आज कटरी भूमि के रेट काफी बढ़ गए हैं। जिलाधिकारी ने योजनाओं की शुरूआत करने से पूर्व तथा कार्य समाप्ति के बाद फोटो एवं वीडियो ग्राफी कराने के निर्देश दिए हैं। वित्तीय वर्ष 2013-14 हेतु भूमि सेना योजना अन्तर्गत 915 है., रामगंगा कटरी विकास योजना अन्तर्गत 1370 है., मनरेगा योजना अन्तर्गत 605 है., नावार्ड-18 योजना अन्तर्गत 720 है., गंगा नदी कटरी विकास योजना अन्तर्गत 1588 है. तथा भूमि सुधार हेतु चयनित परियोजनाओं का अनुमोदन किया गया है। उक्त योजनाओं में भूमि सुधार के अन्तर्गत समोच्य रेखीय बांध, मार्जिनल बांध, समतलीकरण, ऊसर सुधार, वनीकरण, उद्यानीयकरण आदि कार्य कराए जाना प्रस्तावित हैं। इनके द्वारा अकृष्य भूमि को कृषि योग्य क्षेत्र में परिवर्तित किया जाएगा और एक फसली क्षेत्र को बहुफसली क्षेत्र में परिवर्तित किया जाएगा। इन परियोजनाओं द्वारा कराए गए कार्यों से भूमि की सिंचन क्षमता, वर्षा जल का संरक्षण एवं फसलोत्पादन में भी आशातीत वृद्धि होगी। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी जयन्त कुमार दीक्षित, भूमि संरक्षण अधिकारी मैदानी राजीव कुमार, उप निदेशक कृषि प्रसार अनिल तिवारी, जिला उद्यान अधिकारी कौशल कुमार सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply