बदायूं में हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस के अवसर पर छात्राओं को पुरस्कृत करती वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की पत्नी
गणतंत्र दिवस के अवसर पर छात्राओं को पुरस्कृत करती वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की पत्नी

बदायूं जनपद में 65वां गणतन्त्र दिवस हर्षोल्लास एवं धूमधाम के साथ मनाया गया। पुलिस लाइन में पुलिस परेड के भव्य प्रदर्शन के साथ ही सरकारी, अर्द्ध सरकारी कार्यालयों तथा शैक्षिक संस्थाओं में ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गई। स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। अधिकारियों एवं गणमान्य नागरिकों ने गणतन्त्र दिवस की एक दूसरे को बधाईयां देकर खूब मस्ती की।
जनपद एवं सत्र न्यायाधीश पीके चतुर्वेदी ने जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अतुल सक्सेना के साथ पुलिस परेड का आनन्द लेने के साथ ही श्री चतुर्वेदी द्वारा पुलिस विभाग की ओर से पुलिस परामर्श केन्द्र की टीम रामजस अनेजा, वीरेन्द्र धींगड़ा, वीपी खत्री, अशोक खुराना, लता मिश्रा एवं कमला माहेश्वरी को सराहनीय कार्य के लिए पुरस्कृत किया। बदायूं क्लब में अपने विचार व्यक्त करते हुए जिला जज श्री चतुर्वेदी ने कहा आपसी छोटे-छोटे झगड़ों को यदि प्रारम्भ में ही आपसी समझौते के आधार पर निस्तारित कर दिया जाये, तो आगे आने वाली तमाम असुविधाओं से बचा जा सकता है। उन्होंने गणतन्त्र दिवस की बधाई देते हुए वर्तमान युग में दिन व दिन व्यक्ति की बदलती जा रही सोच पर विचार करने की आवश्यकता पर बल दिया।
गणतन्त्र दिवस का शुभारम्भ कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी द्वारा ध्वजारोहण कर किया गया। जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों, कर्मचारियों को राष्ट्र की एकता और अखण्डता बनाए रखते हुए संविधान को अंगीकृत करने की शपथ भी दिलाई। जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट में अपने सम्बोधन में कहा कि देश को आगे बढ़ाने के लिए बच्चों में उत्तम चरित्र का निर्माण करें। उन्होंने कहा कि वर्तमान युग राष्ट्र स्तरीय कम्पटीशन का युग है। इसलिए जब बच्चे आगे बढ़ेंगे तो देश अपने आप तरक्की करेगा। कलेक्ट्रेट में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व शीलधर यादव, नगर मजिस्ट्रेट निधी श्रीवास्तव, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी राजेश शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त किए। विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह द्वारा ध्वजारोहण कर शपथ दिलाई गई।
गणतन्त्र दिवस पर पुलिस लाइन में भव्य पुलिस परेड का आयोजन हुआ। जिलाधिकारी ने एसएसपी अतुल सक्सेना के साथ पुलिस परेड की सलामी ली और ध्वजारोहण कर पुलिस के जवानों को संविधान तथा राष्ट्र के प्रति समर्पित रहने की शपथ भी दिलाई। पुलिस लाइन में स्कूली बच्चों द्वारा मनमोहक देश प्रेम से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। मूक-वधिर बच्चों द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम की सभी अधिकारियों एवं गणमान्य नागरिकों ने प्रशंसा की। जिलाधिकारी ने पुलिस लाइन में अपने सम्बोधन के दौरान 21 हजार रूपए परेड के जवानों को देने की घोषणा करते हुए पुलिस लाइन में 21 सोडियम लाइटें तथा समस्त थानों में दो-दो हैण्डपम्प लगवाने की भी घोषणा की। जिलाधिकारी द्वारा उत्कृष्ट सेवा के लिए सीओ उझानी मुकेश कुमार सक्सेना को राष्ट्रपति पुलिस पदक देकर सम्मानित किया गया। स्थानीय कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक वीरपाल सिंह सिरोही की पूरी टीम को तिहरे हत्या कांड का खुलासा करने पर पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। पुलिस परेड के प्रथम कमांडर सीओ सिटी सत्यसेन यादव सहित अन्य पुलिस कमांडरों को सम्मानित किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले स्कूली बच्चों को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की धर्मपत्नी द्वारा पुरस्कार वितरित किए गए।
डीजे श्री चतुर्वेदी, डीएम श्री त्रिपाठी एवं एसएसपी श्री सक्सेना सहित एसपी सिटी एमएस चौहान, एसपी आरए ओमप्रकाश यादव, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व शीलधर यादव, सीओ सिटी सत्यसेन यादव, उप जिलाधिकारी प्रदीप यादव ने बदायूं क्लब पहुंच कर ध्वजारोहण किया और एक सभा के माध्यम से अपने अपने विचार व्यक्त किए। बदायूं क्लब में स्वतन्त्रता सेनानियों की तीन विधवाओं वर्फा देवी, विमला शर्मा तथा वुद्धो देवी को शॉल उढ़ा कर जिला जज तथा जिलाधिकारी ने सम्मानित किया। पुलिस लाइन में रविन्द्र मोहन सक्सेना तथा बदायूं क्लब में डा. रामबहादुर माथुर तथा कलेक्ट्रेट में रमाकांत सक्सेना ने संचालन किया। इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट निधी श्रीवास्तव, डा. शैलेन्द्र कबीर, अशोक खुराना, वरिष्ठ कोषाधिकारी प्रवीण कुमार त्रिपाठी, मुमताज सिद्दीकी, जिला राजस्व अधिकारी उमेश उपाध्याय, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट बदलू प्रसाद सहित गणमान्य नागरिक मौजूद रहे। इसके अलावा प्रातः काल प्रभात फेरी निकाली गई। क्रीड़ा प्रतियोगिता, शैक्षिक संस्थाओं में खेलकूद, जिला कारागार में सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं फलों का वितरण किया गया। महिला तथा पुरूष चिकित्सालय एवं कछला स्थित कुष्ठ आश्रम में भी स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा फल बांटे गए। एनसीसी/ स्काउड गाइड, पुलिस तथा होमगार्ड द्वारा रूट मार्च एवं भारत माता की शोभा यात्रा भी निकाली गई। कु. रूकुम सिंह वैदिक इंटर कालेज में भाषण प्रतियोगिता भी कराई गई। नगर पालिका स्थित प्रांगण में सांस्कृतिक कार्यक्रम, कवि सम्मेलन एवं सार्वजनिक सभा का आयोजन हुआ।

Leave a Reply