बदायूं के श्रम प्रवर्तन अधिकारी पर गिरी गाज, निलंबित

आयोग की टीम के सदस्य पीड़ित परिजन से बात करते हुए
आयोग की टीम के सदस्य पीड़ित परिजन से बात करते हुए
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बदायूं जनपद के श्रम प्रवर्तन अधिकारी आर.पी. यादव को बाल श्रम निषेध कानून का पालन न कराए जाने तथा अपने दायित्वों के निर्वहन में शिथिलता बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है।

यह जानकारी आज यहां देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि निलम्बित श्रम प्रवर्तन अधिकारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई प्रारम्भ कर दी गई है और उप श्रम आयुक्त, मुख्यालय कानपुर एस.डी. शुक्ला को जांच अधिकारी नामित किया गया है। बता दें कि मायावती के आने से पहले कटरा सआदतगंज में हैलीपेड बनाने में बच्चों को लगाया गया था, जिस पर मुख्यमंत्री ने यह कार्रवाई की है। इस प्रकरण में आज आयोग की टीम ने गाँव में जाकर जांच भी की है।

Leave a Reply