फुल फॉर्म में आये डीएम ईई, एई और जेई के विरुद्ध की कार्रवाई

बदायूं के डीएम मयूर माहेश्वरी फुल फार्म में आ गये हैं। उन्होंने लापरवाही के मामले में दो जेई और एक एई को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के साथ ठेकेदारों से स्पष्टीकरण मांगा है। मंगलवार को जिलाधिकारी ने कादरचौक विकास क्षेत्र में जोरी नगला गांव के पास बन रहे तटबंध का निरीक्षण किया। यहां ठोकर बनाने की औपचारिकता ही पूरी की जा रही थी, जिसे देख कर डीएम का पारा चढ़ गया। बाढ़ खंड के ईई के विरुद्ध शासन को पत्र लिखा है, वहीं जेई दिलशाद, हिमायूं व सलीम एवं एई अखिलेश कुमार को प्रतिकूल प्रविष्टि दी है, साथ ही ठेकेदारों से स्पष्टीकारण मांगा है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर उनके विरुद्ध भी कड़ी कार्रवाई की जायेगी। जोरी नगला तटबंध पर ठोकर बनाने के लिए 1.86 करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा गया है, जिसे अधिकारी और ठेकेदार मिल कर हजम करने की जुगत में थे, जिस पर डीएम की नजर पहले ही पड़ गयी। यहां बता दें कि बरसात के मौसम में जनपद चारों तरफ से बाढ़ से घिर जाता है और पैसे का सदुपयोग न होने के कारण भारी तबाही भी होती है।

Leave a Reply