प्रमुख सचिव गृह व डीजीपी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग में दिये निर्देश

डीएम ने देखी लैपटाप के रखरखाव की स्थिति

डीएम ने देखी लैपटाप के रखरखाव की स्थिति
डीएम ने देखी लैपटाप के रखरखाव की स्थिति

बदायूं के जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने नवीन कलेक्ट्रेट भवन में सुरक्षित रखे 8147 लैपटाप के रखरखाव का जायजा लेकर उसको दीमक से बचाने हेतु लैपटाप पैकिंग के आसपास दीमक न लगने वाले पाउडर का भी अपने सम्मुख छिड़काव कराया। श्री त्रिपाठी ने आज आकस्मिक रूप से नवीन कलेक्ट्रेट भवन पहुंचकर कमरों को खुलवाकर सीडीओ जयन्त कुमार दीक्षित, एडीएम (ई) मनोज कुमार, उप जिलाधिकारी सदर प्रदीप कुमार, बिसौली गुलाब चन्द्र, उप जिलाधिकारी दातांगज वैभव मिश्रा, उप जिलाधिकारी बिल्सी के के अवस्थी तथा जिला विद्यालय निरीक्षक सुशीला अग्रवाल के साथ लैपटाप के रखरखाव का जायजा लिया और उनको बारिश की नमी के अलावा दीमक आदि से बचाने हेतु निरन्तर निगरानी करने के निर्देश दिए हैं। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने नवीन कलेक्ट्रेट भवन में अपने न्यायालय, सभा कक्ष तथा कार्यालय की फिनीशिंग आदि कार्यों को शीघ्र पूरा कराने के निर्देश दिए, ताकि आगामी 15 अगस्त को नवीन कलेक्ट्रेट भवन में घ्वजारोहण किया जा सके। जिलाधिकारी ने नवीन कलेक्ट्रेट भवन में खुले स्थान को ट्रांसपोर्ट फाइवर से कवर करने के भी निर्देश दिए। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलवीर सिंह यादव, एडीएम (ई) मनोज कुमार, एसपी सिटी मान सिंह चौहान एवं सिटी मजिस्ट्रेट निधी श्रीवास्तव के साथ इस्लामियां इण्टर कालेज पहुंचकर रोज़ा इफतार की तैयारियों का जायजा लेते हुए नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को निर्देश दिए कि वह स्वंय रूककर अपने कर्मचारियों से सफाई आदि का काम कराएं और आवश्यकतानुसार पंचायत राज विभाग के सफाई कर्मियों को भी लगाया जाए। जिलाधिकारी ने बारिश के मौसम को दृष्टिगत रखते हुए सफाई तथा टेंट के कार्य को शीघ्र पूरा कराने को कहा। जिलाधिकारी ने सीडीओ जयन्त कुमार दीक्षित को निर्देश दिए कि वह यहां की आवश्यकतानुसार पंचायत विभाग के सफाई कर्मियों को लगा दें, ताकि कार्य जल्द पूरा हो सके। इस अवसर पर सीओ सिटी सत्य सैन यादव, अवधेश यादव, मौलाना यासीन उस्मानी, इस्लामियां इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य खिजर अहमद मौजूद रहे।

अमन चैन क़ायम रखने हेतु किए जाएं पुख्ता इंतजाम

सावन माह में बदायूं में निकलने वाले कावड़ियों के जुलूस, जुमातुल अलविदा तथा ईद जैसे त्यौहारों को शांति और सौहार्द पूर्ण माहौल में सपन्न कराने हेतु कानून व्यवस्था की दृष्टि से पुख्ता इंतजामात करने की हिदायत प्रमुख सचिव गृह एवं पुलिस महा निदेशक ने वीसी पर समस्त प्रशासनिक, पुलिस अधिकारियों को दी है। जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलवीर सिंह यादव, एसपी सिटी मान सिंह चौहान, एडीएम (ई) मनोज कुमार, नगर मजिस्ट्रेट निधी श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी सहसवान हरीशंकर यादव एवं जिला सूचना विज्ञान अधिकारी राजेश शर्मा ने वीसी में भाग लेकर उच्चाधिकारियों के निर्देश को सुना। वीसी पर प्रमुख सचिव गृह नें निर्देश दिए कि सभी समुदायों के लोगों से वार्ता के अलावा पीस कमेटी की बैठकें आयोजित कराने के अलावा शरारती तत्वों के साथ कोई रियायत न बरतते हुए उनके विरूद्ध 107/16 के अलावा अन्य धाराओं में आवश्यकतानुसार कार्यवाहियां की जाये। तेज ध्वनि वाले यन्त्र डीजे आदि पर पूर्ण पाबंदी लगाकर सौहार्द पूर्ण माहोल में त्यौहार मनाए जाएं। इसके अलावा उन्होंने एंबुलेंस, अग्निशमन वाहन के साथ-साथ यातायात के भी कड़े प्रबन्ध करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी निरन्तर भ्रमण करके आवश्यकतानुसार व्यवस्थाएं करें। प्रदेश के पुलिस महा निदेशक ने कहा कि प्रमुख स्थानों पर सीसी टीवी कैमरे लगाकर शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखने के साथ छोटी से छोटी घटना को नजर अंदाज न करते हुए मौके पर पंहुचकर उस पर प्रभावी कार्यवाही अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि त्यौहार रजिस्टर का अवलोकन करने के बाद उसी आवश्यकतानुसार कार्यवाही अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि शरारती तत्वों पर कठोर कार्यवाही अवश्य करें ताकि दूसरे लोग भी सतर्क रहे। उन्होंने कहा कि जो चुनौतियां हैं उनका डटकर मुकावला करते हुए पूरे अमन-ओ-चैन के साथ सभी त्यौहार और कार्यक्रमों को सम्पन्न कराएं।

 

 ग्रामीणों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने हेतु

 ग्रामीणों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने हेतु
ग्रामीणों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने हेतु

बदायूं में चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रम के तहत ब्लाक सालारपुर स्थित ग्राम पड़ौलिया के उच्च प्राथमिक विद्यालय में रोटरी इंटर नैशनल द्वारा सभा का आयोजन किया गया। सभा की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने कहा कि शहरी क्षेत्रों के सापेक्ष ग्रामीण स्तर पर जानकारी के अभाव में तमाम प्रकार की बीमारियों से ग्रामीण ग्रस्त होते हैं इस लिए इन्हें भी शहरी क्षेत्रों की भांति जागरूकता उत्पन्न कर सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं जिससे उनका स्वास्थ्य भी स्वस्थ्य और हष्ठ-पुष्ठ रहे। जिलाधिकारी ने उक्त विचार दस्त नियन्त्रण जागरूकता अभियान के तहत 600वीं जन जागरूकता सभा में व्यक्त करते हुए कहा कि यह बारिश का मौसम है और ऐसे में संक्रामक रोग ज्यादा फैलने के साथ-साथ उल्टी दस्त की बीमारियां ज्यादा फैलती हैं, इसलिए इसकी जानकारी ग्रामीणों को देकर दस्त रोकने वाली किटें भी उपलब्ध कराई जाएं, ताकि उनका स्वास्थ्य ठीक रहे। सर्व प्रथम जिलाधिकारी का मार्ल्यापण कर स्वागत करने के साथ रोटरी का स्टॉल भेंट कर सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी को रोटरी द्वारा प्रतीक चिंन्ह के रूप में ऐतिहासिक कार का मूमेंटों भी भेंट किया गया। इस अवसर पर मौजूद मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. रजनीश पाल सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों में एएनएम, आशा तथा चिकित्सकों की टीम भेंजी जाएंगी। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर प्रदीप कुमार यादव, रोटेरियन श्यामजी शर्मा सहित डब्लूएचओ, यूनीसेफ के प्रतिनिधियों के साथ भारी संख्या में ग्रामीण महिला-पुरूष एवं बच्चे मौजूद रहे।

Leave a Reply