प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नहीं हैं मोदी, कार्यकर्ता मायूस

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को अगला प्रधानमंत्री बनाने के लिए भाजपा कार्यकर्ता आतुर नज़र आ रहे हैं, वहीं मोदी को प्रधानमंत्री बनाने का प्रचार कार्यकर्ताओं ने स्वतः ही व्यापक स्तर पर शुरू कर दिया है। सोशल नेटवर्किंग साइट्स मोदी के प्रचार से भरी नज़र आ रही हैं। चुनाव पूर्व ही कार्यकर्ता जश्न मना रहे हैं, ऐसे में भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने पर ही सवाल खड़ा कर दिया है।

एक निजी टीवी चैनल के इंटरव्यू में नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा है कि यह गठबंधन तय करेगा कि प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी किसे होना चाहिए? बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार की आपत्ति पर उन्होंने कहा कि वह राजग का हिस्सा हैं और उन्हें अपनी बात कहने का पूरा अधिकार है। गडकरी ने कहा कि समय आने पर राजग की बैठक में उम्मीदवार के नाम पर विचार होगा, तब नितीश कुमार की राय भी ली जाएगी। उल्लेखनीय है कि नितीश कुमार कट्टर हिंदुवादी नेता के रूप में स्थापित हो चुके नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने के पक्ष में नहीं हैं। उधर गडकरी के इस बयान से भाजपा कार्यकर्ता मायूस नज़र आ रहे हैं। माना जा रहा है कि इस बार नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री प्रत्याशी नहीं बनाया गया, तो भाजपा समर्थक अन्ना हज़ारे की बनने वाली नई पार्टी में जा सकते हैं, जिससे भाजपा को भारी नुकसान हो सकता है।

One Response to "प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नहीं हैं मोदी, कार्यकर्ता मायूस"

  1. sanjay   October 4, 2012 at 12:31 AM

    modi ji ek hindutvbadi neta hain humari bjp unko pm dekhna chaheti hai but nda ko bhi saath rekhe bina sarkar nehi ban sakti

    Reply

Leave a Reply