पुलिस महानिदेशक ने मुख्यमंत्री को ड्राफ्ट प्रदान किया

  • उत्तराखण्ड के पुनर्निर्माण तथा प्रभावितों के पुनर्वास के लिए अधिक से अधिक वित्तीय मदद उपलब्ध कराने की जरूरत: मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को 5 करोड़ 1 लाख 84 हजार 175 रुपये का ड्राफ्ट प्रदान करते पुलिस महानिदेशक देवराज नागर
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को 5 करोड़ 1 लाख 84 हजार 175 रुपये का ड्राफ्ट प्रदान करते पुलिस महानिदेशक देवराज नागर
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आज उनके सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर पुलिस महानिदेशक देवराज नागर ने उत्तराखण्ड के आपदा पीडि़तों की सहायता के लिए 05 करोड़ 01 लाख 84 हजार 175 रुपए का ड्राफ्ट मुख्यमंत्री पीडि़त सहायता कोष हेतु प्रदान किया। इसके अतिरिक्त कन्नौज के प्राथमिक शिक्षक संघ की ओर से 25 लाख 95 हजार 900 रुपए का चेक तथा अधिशासी अभियंता जल निगम की ओर से 50 हजार 100 रुपए का चेक भी मुख्यमंत्री को उपलब्ध कराया गया।
मुख्यमंत्री ने सहायता कोष हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करने वालों की सराहना करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड राज्य के पुनर्निर्माण तथा प्रभावितों के पुनर्वास के लिए अधिक से अधिक वित्तीय मदद उपलब्ध कराए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पड़ोसी राज्य के आपदा प्रभावितों की मदद के लिए प्रदेश की जनता द्वारा लगातार मदद की जा रही है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के आपदा प्रभावितों को सर्वाधिक आर्थिक मदद राज्य सरकार व प्रदेश की जनता द्वारा ही प्रदान की गई है।
पुलिस महानिदेशक ने इस मौके पर बताया कि मुख्यमंत्री पीडि़त सहायता कोष हेतु प्रदान की गई धनराशि प्रदेश के समस्त राजपत्रित एवं गैर राजपत्रित पुलिस कर्मियों के एक दिन के वेतन का स्वैच्छिक अंशदान है। उत्तराखण्ड के आपदा प्रभावितों के सहायतार्थ मुख्यमंत्री पीडि़त सहायता कोष में किसी भी विभाग द्वारा अब तक प्रदान की गई यह सर्वाधिक धनराशि है। प्राथमिक शिक्षक संघ, कन्नौज की ओर से सहायता राशि का चेक पूर्व ब्लाक प्रमुख नवाब सिंह यादव, शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष उदय नारायण सिंह यादव एवं सचिव बशीरुद्दीन द्वारा प्रदान किया गया। कार्यालय अधिशासी अभियंता जल निगम, कन्नौज की ओर से समाजसेवी बंटी शर्मा ने सहायता राशि का चेक उपलब्ध कराया। इस मौके पर कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी, अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था अरुण कुमार, मुख्यमंत्री के परामर्शी आमोद कुमार, सूचना निदेशक प्रभात मित्तल एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply