पांच वर्षीय बच्ची के लिए दादा ही बना दरिंदा

किरन कांत

सीओ सदर राजेश भट्ट
सीओ सदर राजेश भट्ट

उत्तराखंड में आपराधिक वारदातों में कमी नहीं आ रही है। हरिद्वार में एक बार फिर जघन्य वारदात प्रकाश में आई है। एक पांच वर्ष की मासूम बच्ची के साथ उसी के दादा ने कुकर्म कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी घर से फरार है, जिसे पुलिस खोज रही है।

जघन्य वारदात कोतवाली रानीपुर क्षेत्र के गाँव औरंगाबाद की है। परिजन भी घटना को लेकर सकते में हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा कि यह क्या हो गया और अब क्या करें। परिजनों का कहना है कि बच्ची शाम को घर के बाहर ही खेल रही थी, तभी उसके साथ दुष्कर्म की वारदात हुई।

परिजनों ने बताया कि शाम पांच बजे स्कूल से घर लौटने के बाद बच्ची खेलने गई थी, तभी दो लड़को के सामने उसे दादा अपने साथ ले गया। बच्चों ने पीछे से जाकर देखा, तो रगवीर दादा उसके साथ बलात्कार कर रहा था। उसके बाद दरिंदे दादा को पकड़ने की कोशिश की गई, लेकिन वो मौका पाकर भाग गया। बाद में पुलिस को खबर दी गई और बदहबास बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया। बच्ची डरी-सहमी है।
इससे पहले हरिद्वार के फेरुपुर और रानीपुर कोतवाली क्षेत्र में दो नाबालिक युवतियों के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या की जघन्य वारदातें हो चुकी हैं, जिनका पुलिस अभी तक खुलासा नहीं कर पाई है। सीओ सदर राजेश भट्ट का कहना है कि पुलिस लगातार प्रयास कर रही है और शीघ्र अपराधी पुलिस के चंगुल में होंगे।

Leave a Reply