पर्यटन स्थल बनाने का श्रेय सांसद को नहीं दे रहे डीएम

बदायूं के लोकप्रिय सांसद धर्मेन्द्र यादव
बदायूं के लोकप्रिय सांसद धर्मेन्द्र यादव

बदायूं जिले के सहसवान में स्थित सहस्त्रबाहु किले का सौंदर्यीकरण किया जायेगा, साथ ही पिकनिक मनाने वालों की मौज मस्ती और खाने-पीने हेतु नगर पालिका द्वारा दो दुकानों का भी निर्माण कराया जाएगा। यह सब सांसद धर्मेन्द्र यादव की मंशा के चलते किया जायेगा, लेकिन डीएम इसका श्रेय सांसद धर्मेन्द्र यादव को नहीं दे रहे हैं। डीएम की यह चाल फिलहाल किसी की समझ में नहीं आ रही है, लेकिन डीएम की इस हरकत को लेकर चर्चायें आम हो चुकी हैं।

ऐतिहासिक दण्ड झील को पहले की तरह सुन्दर बनाने एवं उसके स्रोत खोलने हेतु खुदाई कराई जाएगी। झील को पुनः पहले जैसा स्वरूप देने हेतु तकनीकी विभागों से राय मांगी गई है। पालिका की ओर से टीले के ऊपर लगभग 20 फिट ऊंची बीस हाईमास्ट लाइट लगाई जायेंगी। सहसवान पर्यटन स्थल पर चढ़ने के लिए बनाई गई सीढ़ियों के विपरीत दिशा में इंटरलाकिंग द्वारा एक सड़क भी बनाई जाएगी, जो टीले पर होते हुए दण्ड झील तक पहुंचायेगी। मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह ने कहा कि झील की खुदाई हेतु प्रस्ताव तैयार कराया जाए। उन्होंने कहा कि सहसवान पर्यटक स्थल को सुन्दरता प्रदान करने हेतु पंजाब नैशनल बैंक के एलडीएम का भी सहयोग लिया जाएगा। स्थलीय निरीक्षण के समय आज जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी, मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह, उप जिलाधिकारी सहसवान हरीशंकर यादव, पीडी डीआरडीए रामरक्षपाल, एलडीएम, लोक निर्माण विभाग, बाढ़ खण्ड के अभियन्ताओं सहित तमाम तहसील स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे, लेकिन किसी अधिकारी ने यह नहीं बताया कि यह सब कार्य सांसद धर्मेन्द्र यादव की मंशा के चलते कराये जा रहे हैं, जबकि सांसद धर्मेन्द्र यादव काफी पहले ही इस क्षेत्र को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कराने का वायदा कर चुके हैं। विकास कार्यों का श्रेय सांसद को न देने की डीएम चन्द्रप्रकाश त्रिपाठी की चाल लोगों की समझ नहीं आ रही है।

भ्रष्टाचार और अव्यवस्था शिखर पर, डीएम फेल, नेता मौन

Leave a Reply