परवीन आज़ाद ओएसडी और भाई बना सिपाही

जियाउल हक़ की पत्नी परवीन आज़ाद
जियाउल हक़ की पत्नी परवीन आज़ाद

उत्तर प्रदेश सरकार ने दिवंगत उपाधीक्षक जियाउल हक की पत्नी परवीन आजाद को विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) पुलिस कल्याण और जिया उल हक के भाई सोहराब अली को सिपाही कल्याण के पद पर नियुक्त कर दिया है। अन्य परिजनों को नौकरी देने की प्रक्रिया चल रही है, साथ ही शहीद के नाम पर गाँव का नाम रखने पर भी सरकार विचार कर रही है।

प्रतापगढ़ में हुए बवाल में मारे गये उपाधीक्षक जियाउल हक़ की पत्नी परवीन आजाद को पुलिस उपाधीक्षक पद पर तैनात करने की मांग की जा रही थी, लेकिन इस पद पर सरकार नियुक्ति नहीं कर सकती, इसलिए उन्हें विशेष कार्याधिकारी का पद दिया गया है।

पिछले दिनों गाँव पहुँचने पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात करती परवीन आज़ाद और अन्य परिजन
पिछले दिनों गाँव पहुँचने पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात करती परवीन आज़ाद और अन्य परिजन

उधर परवीन ने नौकरी के लिए दस सदस्यों की सूची दी है, जिसमें उनके मायके वालों के भी नाम हैं, उनकी सूची पर ससुराल पक्ष को आपत्ति है, जिसको लेकर सरकार की ओर से अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। फिलहाल परवीन के साथ सरकार ने जियाउल हक़ के भाई सोहराब को भी नौकरी दे दी हैं एवं गाँव का नाम बदलने पर भी सरकार विचार कर रही है।

Leave a Reply