निर्धनों की सेवा करना सबसे बड़ा पुण्य: आबिद

  • अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) ने अपने निवास पर 800 गरीबों को दिए कम्बल
अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) आबिद रजा के आवास पर बैठे गरीब बुजुर्ग
अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) आबिद रजा के आवास पर बैठे गरीब बुजुर्ग

गरीब असहाय निर्धनों की जरूरतों को पूरा करना भी किसी इबादत से कम नहीं होता। समाज में निर्धनों का एक ऐसा तबका भी होता है, जो दूसरों की मदद पर आश्रित होता है, ऐसे लोगों की सेवा करना पुण्य का कार्य है।
अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) आबिद रजा ने आज कम्बल वितरण कार्यक्रम में उक्त विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जो व्यक्ति एक दूसरे के सुख-दुख में साथ रहकर तथा बेसहारा निर्धनों की सेवा कर के जो आनन्द प्राप्त करता है, वह उसको अन्य कार्यों के करने से आत्म शांति प्राप्त नहीं होती।
श्री रजा ने आज अपने निवास पर तहसील सदर द्वारा उपलब्ध कराए गए लगभग 800 से अधिक कम्बलों को क्षेत्रीय लेखपालों द्वारा चिन्हित किए गए गरीबों में वितरित किए। उन्होंने कहा कि ऐसे तमाम बेसहारा गरीब हैं, जिनके पास इस कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए कोई साधन नहीं है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए अति निर्धनों का क्षेत्रीय लेखपालों द्वारा मौके पर जाकर चयन कराया गया है। उन्हीं गरीबों को 12 जनवरी से कम्वल वितरण का कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर सालारपुर के बीडीओ ललित कुमार सोती, लेखपाल मु. रिजवान खां, अशोक कुमार, विजय वीर सिंह, कुतबुद्दीन के अलावा राशिद मियां, ब्रह्मपाल तथा गुड्डू गाजी सहित तहसील सदर प्रशासन के अन्य कर्मचारी एवं कम्वल प्राप्त करने वाले गरीब, वृद्ध महिला, पुरूष मौजूद रहे।

कंबल वितरित करते अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) आबिद रजा
कंबल वितरित करते अध्यक्ष वक्फ विकास निगम (दर्जा राज्यमंत्री) आबिद रजा

                   

One Response to "निर्धनों की सेवा करना सबसे बड़ा पुण्य: आबिद"

  1. Subhash   May 25, 2015 at 12:58 PM

    Whoever edits and puslebhis these articles really knows what they’re doing.

    Reply

Leave a Reply