धन का सदुपयोग कर कन्याएं शिखर पर पहुंचें : आर्य

छात्रा को चैक देते राज्यमंत्री रामकरन आर्य, साथ में मौजूद सांसद धर्मेन्द्र यादव।
छात्रा को चैक देते राज्यमंत्री रामकरन आर्य, साथ में मौजूद सांसद धर्मेन्द्र यादव।

जनपद बदायूं में आज समारोह आयोजित कर कन्याओं को चैक वितरित किये गये। इस अवसर पर प्रदेश के खेल कूद, युवा कल्याण, वाह्य सहायतित परियोजना व समग्र ग्राम विकास विभाग के राज्य मंत्री राम करन आर्य ने कहा कि प्रदेश में गरीब परिवारों की छात्राओं को शिखर पर पहुंचाने हेतु प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही कन्या विद्या धन योजना एक अनमोल योजना है, जिससे गरीबों की भी बेटियां उच्च शिक्षा ग्रहण कर देश में प्रदेश और जनपद का नाम रोशन कर सकेंगी।
श्री आर्य आज इस्लामियां इण्टर कालेज प्रांगण में स्थित कन्या विद्या धन वितरण समारोह में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि छात्राएं भारत के भविष्य का आधार हैं, इसलिए इनकी शिक्षा-दीक्षा में कोई कसर बाक़ी नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह आज प्रदेश के मुख्य मंत्री के आदेश पर उनका प्रतिनिधित्व करने के साथ इस जनपद की छात्राओं को कन्या विद्या धन योजना के तहत चैकों का वितरण करेंगे। उन्होंने गरीबी के कई उदाहरण देते हुए कहा कि गरीब का दर्द वही समझ सकता है, जो इस डगर से गुज़रा हो, इस लिए प्रदेश सरकार ने इन बेटियों के दर्द को महसूस कर इस योजना के तहत छात्राओं को आगे बढने का जो मौका दिया है, उसका सदुपयोग कर छात्राएं आगे बढ़ कर कल्पना चावला जैसी मिसालें क़ायम करें, क्योंकि भविष्य में क्या हो जाये, इसके बारे में कोई नहीं जानता। प्रदेश सरकार में धन की कोई कमी नहीं है, इसलिए जो छात्राएं चैक पाने से वंचित रह गई हैं, उन्हें भी चैक दिलाने की कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
बदायूं लोक सभा क्षेत्र के सांसद धर्मेन्द्र यादव ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि किसी भी बेटी को निराश नहीं किया जाएगा, जो आवेदन पत्र देर से प्राप्त हुए हैं, उनको भी समायोजित कराया जाएगा। उन्होंने  कहा कि कन्या विद्या धन योजना एक ऐसी योजना है, जिससे प्रभावित होकर दूसरे प्रदेशों ने भी इस योजना की नकल कर दूसरे नामों से अपने प्रदेश में चलाकर गरीब परिवार की छात्राओं को लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपद में विकास की कोई कोर-कसर शेष नहीं छोड़ी जाएगी। यहॉ इण्टर, डिग्री कालेजों की स्वीकृति के साथ बदायॅू-उझानी मार्ग पर मेडीकल कालेज की भी स्थापना कराई जाएगी, जिसकी स्वाकृति भी प्राप्त हो चुकी है।
विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कन्या विद्या धन योजना ही नहीं एक बड़ी संख्या में मौजूद बेरोज़गारों को भी बेरोज़गारी भत्ता देने की योजना को लागू किया है, जिससे बहुत अधिक संख्या में बरोज़गार लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के पास धन की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि सांसद के प्रयासों से यह जनपद विकास के मामले में सब से अलग नज़र आएगा। उन्होंने जिलाधिकारी जी.एस. प्रियदर्शी और मुख्य विकास अधिकारी सहित पूरे जिला प्रशासन को इस कार्यक्रम को सफलता पूर्वक आयोजित कराने के कारण बधाई का पात्र बताते हुए धन्यवाद दिया।
जिलाधिकारी जी.एस. प्रियदर्शी ने आगन्तुकों का स्वागत करते हुए कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को भली भांति अंजाम दिलाने हेतु वह कृत संकल्पित हैं। उन्होंने कहा कि इन महत्वपूर्ण योजनाओं के माध्यम से गरीब परिवार की छात्राओं को आगे बढ़ने को मौका मिलने के साथ-साथ उनके अभिभावकों पर आर्थिक बोझ पड़ने के कारण छात्राओं की पढ़ाई बीच में छोड़ कर अधूरी नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ प्राप्त करने वाली छात्राओं को प्राप्त धनराशि का सदुपयोग करके पढ़ाई आगे जारी रखी जा सकती है।
अन्त में मुख्य विकास अधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने समस्त आगन्तुको का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अर्थिक परिस्थितियों के कारण एक बड़ी संख्या में छात्राएं इण्टर के बाद पढ़ाई बीच में छोड़ने को मजबूर हो जाती थीं, लेकिन अब इस योजना के माध्यम से छात्राएं अपनी शिक्षा को जारी रख सकती हैं। जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि उनके कार्यालय में कुल 2890 आवेदन पत्र प्राप्त हुए, जिसमें 1915 छात्राओं को चैक वितरण किए जा रहे हैं। बदायॅू तहसील की 610, बिसौली की 557, बिल्सी की 428, दातागंज की 299 तथा सहसवान तहसील की 21 छात्राओं को आज चैक वितरित किए गए हैं। 267 आवेदन पत्र विभिन्न कारणों से निरस्त हो गए हैं। 52 आवेदन पत्र विचाराधीन हैं और 656 को 31 जनवरी से पूर्व चैक वितरित कर दिए जाएंगे। कार्यक्रम का संचालन डा0 राम बहादुर व्यथित व डा0 शोराब ने संयुक्त रूप से किया। मंत्री के स्वागत में स्कूली छात्राओं द्वारा स्वागत गान प्रस्तुत किए गए, वहीं दूसरी ओर स्कूल के छात्रों ने बैंड बाजा बजा कर स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मंत्री ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलित एवं माल्यार्पण कर किया । इससे पहले जिलाधिकारी जी.एस. प्रियदर्शी ने मंत्री को तथा मुख्य विकास अधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने सांसद, विधायक सहसवान ओमकार सिंह, डा0 यासीन उस्मानी, पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत चेतना सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने विधान परिषद सदस्य, जिला विद्यालय निरीक्षक सुशीला अग्रवाल ने शहर विधायक आबिद रज़ा, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) संजय कुमार सिंह ने शेखूपुर विधायक आशीष यादव, एसडीएम सदर ने बिसौली के विधायक आशुतोष मौर्य, जिला विकास अधिकारी प्रदीप कुमार सोम ने पूर्व विधायक प्रेम पाल सिंह, डीआईओएस ने पूर्व विधायक विमल कृष्ण अग्रवाल को बुंके भेंट कर स्वागत किया। इस अवसर पर एसपी सिटी पीयूष कुमार श्रीवास्तव व अन्य जिला स्तरीय अधिकारी गण के साथ सुरेश पाल सिंह चौहान, रजनीश गुप्ता सहित तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में युवा कल्याण और खेल कूद विभाग के अधिकारियों के साथ अनौपचारिक वार्ता कर विभागीय जानकारी हासिल की। इस अवसर पर जिला क्रीड़ा अधिकारी अनिल कुमार, प्रभारी युवा कल्याण अधिकारी चन्द्र बोस मौजूद रहे।

चैक से वंचित छात्राओं ने किया हंगामा

मनमानी और भेदभाव का आरोप लगाते हुए रोड जाम करती आक्रोशित छात्राएं
मनमानी और भेदभाव का आरोप लगाते हुए रोड जाम करती आक्रोशित छात्राएं

लग्जरी कारों से आने वाली सभी छात्राओं को चैक मिल गये, लेकिन जिन्हें इस धन की वाकई आवश्यकता थी, उनका नाम चैक मिलने वालों की सूची में नहीं था। ठंड में किसी तरह आईं मायूस छात्राओं में कई की आँखें नम हो गईं, वही कुछ गुस्से से लाल हो गईं और समारोह स्थल के बाहर रोड पर हंगामा करने लगीं। भेदभाव और मनमानी का आरोप लगाने वाली तमाम छात्राओं ने रोड जाम भी कर दिया, जिसे खुलबाने में अधिकारियों को मशक्कत करनी पड़ी।

सरकार की जगह लगा सपा का कार्यक्रम

चैक वितरण समारोह कागजों में ही सरकारी था, क्योंकि मौके पर कार्यक्रम पूरी तरह सपा के रंग में ही रंगा नज़र आया। कार्यक्रम में मंच पर सपा के समस्त विधायकों के साथ छुटभैया भी नज़र आये, लेकिन जनपद में दो विधायक बसपा के भी हैं, वह दिखाई नहीं दिए। सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव समारोह के विशिष्ट अतिथि थे, पर दूसरी सांसद मेनका गांधी भी नज़र नहीं आई। वक्ता भी अधिकतर सपाई ही थे, जिससे लोग कह उठे कि कार्यक्रम सपा का ही है।

 

 

Leave a Reply