दिल्ली की छात्रा ने विवादित आईटी एक्ट को दी चुनौती

– सुप्रीम कोर्ट ने माँगा स्पष्टीकरण

– शीर्ष अदालत ने आश्चर्य भी व्यक्त किया

श्रेया सिंघल

भारत के सांसदों ने दमनकारी क़ानून को बनाने में एक क्षण भी नहीं लगाया, उस आईटी एक्ट की धारा 66 ए पर एक छात्रा ने सवाल खड़ा करा दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने धारा को लेकर आश्चर्य भी व्यक्त किया है।

आईटी एक्ट की धारा 66 ए को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने वाली छात्रा का नाम है श्रेया सिंघल। वह अब तक ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी में एस्ट्रोफिजिक्स की पढ़ाई कर रही थीं। हाल ही में भारत लौटी हैं और दिल्ली के लॉ कॉलेज में एडमिशन लेने का प्रयास कर रही हैं। इन्हीं श्रेया ने सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल दायर कर आईटी एक्ट की धारा 66 ए को चुनौती दी है। उनकी पीआइएल पर सुप्रीम कोर्ट भी स्तब्ध है। शीर्ष अदालत ने टिपण्णी की है कि अब तक किसी ने इस एक्ट को चुनौती क्यूं नहीं दी? सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के साथ महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, दिल्ली और पांडुचेरी को नोटिस जारी कर आईटी एक्ट की धारा 66 ए के तहत की गईं गिरफ्तारियों पर स्पष्टीकरण भी मांगा है।

Leave a Reply