तेजतर्रार व्यय प्रेक्षक की कार्यप्रणाली से नींद उड़ी

  • वाहन चालक, डीजल पर व्यय भी चुनाव खर्चें में जुड़ेगा
  • तेजतर्रार व्यय प्रेक्षक ने आकस्मिक निरीक्षण कर दिए कड़े निदेश 
आकस्मिक निरीक्षण के दौरान कड़े दिशा-निर्देश देते तेजतर्रार व्यय प्रेक्षक दिनेश कुमार मीना
आकस्मिक निरीक्षण के दौरान कड़े दिशा-निर्देश देते तेजतर्रार व्यय प्रेक्षक दिनेश कुमार मीना

बदायूं लोकसभा क्षेत्र के तेजतर्रार और ईमानदार व्यय प्रेक्षक दिनेश कुमार मीना की कार्यप्रणाली से भेदभाव करने वाले स्थानीय प्रशासनिक अफसरों व प्रत्याशियों की नींद उड़ी हुई है। खर्चों में चोरी करने वाले प्रत्याशियों की हर हरकत पर वह कड़ी नज़र जमाये हुए हैं, उनकी नजरों से कुछ भी नहीं बच पा रहा है। उन्होंने आज कहा कि लोकसभा चुनाव प्रचार में प्रयोग होने वाले निजी वाहनों के ड्राइवर को मिलने वाले वेतन एवं डीजल पर प्रतिदिन व्यय होने वाली धनराशि को भी चुनाव खर्चें में शामिल किया जाएगा, जबकि प्राईवेट वाहन का चुनाव प्रचार में इस्तेमाल करने पर यह नियम लागू न होकर उस वाहन के प्रतिदिन के भाड़े एवं अन्य व्यय को चुनाव खर्च में जोड़ा जाएगा।
23 बदायूं लोकसभा क्षेत्र के व्यय प्रेक्षक दिनेश कुमार मीना ने गुरूवार को आकस्मिक रूप से लेखा टीम द्वारा चुनाव खर्चोें का तैयार किया जा रहा लेखा-जोखा का निरीक्षण करते हुए लेखा टीम की समस्याओं के सम्बन्ध में जानकारी करते हुए निर्देश दिए कि सभी प्रत्याशियों से बैंक स्टेटमेन्ट प्राप्त किया जाए और न देने वालों को नोटिस जारी करने की कार्रवाई अमल में लाई जाए।
प्रेक्षक ने निर्देश दिए कि जिन प्रत्याशियों द्वारा चुनाव प्रचार में हैलीकॉप्टर का प्रयोग किया जा रहा है, उनसे उसका खर्चा तत्काल प्राप्त कर चुनाव खर्च में शामिल करें और न देने पर नोटिस जारी किया जाए। श्री मीना ने विधान सभा बार लेखा परीक्षकों को निर्देश दिए कि चुनाव खर्च का रिकॉर्ड तैयार करने में किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए।
तत्पश्चात उन्होंने वीडियो अवलोकन रूम में पहुंच कर अलग-अलग विधान सभाओं में चल रहे चुनाव प्रचार की वीडियो कवरेज सीडी का अवलोकन करते हुए वीडियो अवलोकन टीम के प्रभारी अधिकारियों से कहा कि सीडी को गम्भीरता पूर्वक देखा जाए और यदि ऐसा प्रतीत हो कि सीडी के हिसाब से सभा/प्रचार का खर्च कम दर्शाया जा रहा है, तो नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाए।
इस अवसर पर वरिष्ठ कोषाधिकारी प्रवीन कुमार त्रिपाठी, प्रेक्षक के लाईजिंग अफसर संजय सिंह, 113 सहसवान विधान सभा क्षेत्र की वीडियो टीम प्रभारी नीतू सिंह, 115 बदायूं विधान सभा क्षेत्र के वीडियो टीम प्रभारी आर. के. उपाध्याय सहित अन्य प्रभारी मौजूद रहे।
उधर पेड न्यूज पर प्रतिबन्ध लगाने हेतु राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों/चुनाव प्रत्याशियों अथवा उनके अभिकर्ताओं के साथ आज 11 अप्रैल को दोपहर 12 बजे कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन और अनुवीक्षण समिति (एमसीएमसी) की एक आवश्यक बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित होगी।
उक्त आशय की जानकारी देते हुए जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन और अनुवीक्षण समिति के सचिव/सदस्य ने बताया कि बैठक में गत बैठक की समीक्षा के साथ ही राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों एवं चुनाव प्रत्याशियों अथवा उनके अभिकर्ताओं को पेड न्यूज पर प्रतिबन्ध लगाने हेतु निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के सम्बन्ध में अवगत कराया जाएगा। समिति सचिव ने सभी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से बैठक में उपस्थित रहने की अपील की है।

Leave a Reply