तिहरे हत्याकांड को खोलने वाली पुलिस को सांसद का पुरस्कार

  • सांसद धर्मेन्द्र यादव ने 51 हजार रूपये देने की घोषणा की
  • विधायक आबिद रजा और एसएसपी भी देंगे पांच-पांच हजार
जमील को विधायक आबिद रजा के साथ सांत्वना देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
जमील को विधायक आबिद रजा के साथ सांत्वना देते सांसद धर्मेन्द्र यादव।

बदायूं शहर में हुए तिहरे हत्याकांड का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को सांसद धर्मेन्द्र यादव ने 51 हजार रूपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है, साथ ही सांसद ने पीड़ित को घर जाकर सांत्वना भी दी, इसके अलावा शहर विधायक आबिद रज़ा और एसएसपी ने भी पुलिस टीम को पांच-पांच हजार रूपये देने की घोषणा की है।

उल्लेखनीय है कि बदायूं शहर के मोहल्ला फकीरी में जमील अहमद की दो बेटियों आयशा, सायरा और भाई शकील को 29-30 सितंबर की रात में मौत के घाट उतार दिया था, जिसका अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ था। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने खुलासा किया कि जालंधरी सराय निवासी शाकिर जमील की बेटी आयशा का आशिक था और आयशा का निकाह तय हो जाने से खफा था, इसी बात को लेकर उसने घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने शाकिर को गिरफ्तार कर 5 अक्टूबर को जेल भेज दिया, लेकिन पुलिस के इस खुलासे पर कम ही लोगों को विश्वास है, क्योंकि घटना के दिन वादी ने बताया कि कई हमलावर थे और उनसे मृतकों की हाथापाई भी हुई थी, पर पुलिस इस सब से इंकार कर रही है।

Leave a Reply