तिवारी ही हैं रोहित शेखर के जैविक पिता

 

रोहित शेखर द्वारा दायर मुक़द्दमे में डीएनए रिपोर्ट आते ही दूध का दूध और पानी का पानी हो गया। रिपोर्ट से साबित हो गया कि, एन डी तिवारी ही रोहित के पिता हैं। तिवारी शुरू से ही सैंपल देने में आना-कानी कर रहे थे, पर कोर्ट के आदेश के आगे मजबूर होकर उन्हें सैंपल देना पड़ा। सैंपल देने के बाद भी उन्होने अपील दायर की, कि रिपोर्ट को सार्वजनिक न किया जाये जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया। दिल्ली हाई कोर्ट ने अब फैसला दे दिया है कि, इसमें कोई शक नहीं कि, तिवारी रोहित के जैविक पिता हैं। यह फैसला आने के बाद तिवारी ने कहा, “मैं कोर्ट के फैसले का सम्मान करता हूँ, मैं विवादों से दूर रहना चाहता हूं और इस मामले को ज्यादा तूल नहीं देना चाहता था। यह मेरा निजी मामला है। मुझे अपनी तरह जीने का हक है। मेरी सहानुभूति रोहित शेखर के साथ है।”

फैसला हो ने के बाद तिवारी मीडिया से बचते नज़र आए। उन्होने सामने आकर बयान देने की बजाय एक दूत के हाथों प्रेस नोट भिजवाया। उनके ओएसडी एडी भट्ट ने कहा कि, उन्हें अपने ही लोगों ने बदनाम करने के लिए एक सोची-समझी साजिश रची। लोगों ने प्रचार पाने के लिए यह सब किया है। रोहित की माँ उज्ज्वला शर्मा ने इसे न्याय की जीत बताया।

 

 

Leave a Reply