गुड न्यूज: मुख्यमंत्री ने पुवायां में चीनी मिल का शुभारंभ किया

 
  • मुख्यमंत्री ने 60.65 करोड़ रु0 की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया
शाहजहांपुर में कई वर्षो से बंद किसान सहकारी चीनी मिल पुवायां का गन्ना डाल कर शुभारंभ करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
शाहजहांपुर में कई वर्षो से बंद किसान सहकारी चीनी मिल पुवायां का गन्ना डाल कर शुभारंभ करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव ने आज शाहजहांपुर में कई वर्षो से बंद किसान सहकारी चीनी मिल पुवायां का शुभारंभ किया। उन्होंने चेन में गन्ना डालकर चीनी मिल के पेराई सत्र की विधिवत शुरूआत की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जनपद की 60.65 करोड़ रुपए लागत की विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण तथा शिलान्यास भी किया।
चीनी मिल के पुनर्संचालन हेतु क्षेत्र की जनता को बधाई देते हुए श्री यादव ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हित में लगातार बड़े फैसले लेकर उन्हें लागू कर रही है। क्षेत्र की जनता की इस मिल को फिर से चलाने की मांग तथा गन्ना किसानों को किसी भी कीमत पर नुकसान न होने देने की नीयत से प्रदेश सरकार ने मिल को पुनर्संचालित किया है। इस चीनी मिल के चालू हो जाने से आस-पास क्षेत्र के हजारों किसानों को सीधा लाभ मिलेगा तथा बेरोजगार हुए मिल कर्मियों को पुनः रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार द्वारा ज्यादातर चीनी मिलें बेची गई, जबकि वर्तमान सरकार ने चीनी मिलों को न केवल बिकने से बचाया, बल्कि उन्हें फिर से पुनर्संचालित कराने का कार्य किया। राज्य सरकार ने दस करोड़ रुपये व्यय करके जनपद मेरठ की मोहिउद्दीनपुर चीनी मिल को चालू कराया और आठ करोड़ रुपये व्यय करके पुवायां की इस चीनी मिल को चालू करा रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की चीनी मिलों के देरी से चलने का कारण केन्द्र सरकार रही है। केन्द्र सरकार द्वारा यह दबाव बनाया जा रहा था कि किसानों को गन्ना मूल्य कम दिया जाये, जबकि प्रदेश सरकार का ध्येय रहा है कि गन्ना मूल्य गत वर्ष से कम नही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि तमाम विषम परिस्थितियों के बावजूद इस वर्ष भी विगत वर्ष की भांति गन्ना मूल्य 280 रुपए प्रति कुन्तल निर्धारित किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों के हित के लिए कृतसंकल्प है। इसके दृष्टिगत अनेक योजनाएं चलाकर किसानों को लाभान्वित कर रही है। किसानों को नहर एवं नलकूप से पानी निःशुल्क दिया जा रहा हैं। किसानों को दुर्घटना बीमा योजना अन्तर्गत देय धनराशि एक लाख रुपए से बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी गई है।
शाहजहांपुर के पुवायां में किसान को चेक प्रदान करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
शाहजहांपुर के पुवायां में किसान को चेक प्रदान करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
इस मौके पर मुख्यमन्त्री ने किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह की जयन्ती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि चौधरी साहब ने सदैव किसानों के हितार्थ कार्य किया। उनके जन्म दिवस के अवसर पर पुवायां चीनी मिल को पुनः किसानों को समर्पित कर चौधरी चरण सिंह के सपनों का साकार किया जा रहा है।
श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की जनता को इलाज की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। रोगियों को तात्कालिक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 108 समाजवादी एम्बुलेन्स सेवा संचालित की जा रही है। इससें लाखों लोग लाभान्वित हुए है। राज्य सरकार नए मेडिकल कॉलेज खुलवाने के साथ ही मुफ्त इलाज एवं दवाएं भी उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कहा कि सभी गम्भीर रोगों एवं असाध्य रोगों का मुफ्त इलाज प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध कराया जा रहा है।
मुख्यमन्त्री ने कहा कि राज्य सरकार ने सभी विभागों की भर्तियां खोल दी हैं। कौशल विकास मिशन के माध्यम से नवयुवकों को विभिन्न ट्रेड्स में प्रशिक्षण देते हुए उन्हे आत्मनिर्भर बनाने हेतु योजना संचालित की जा रही है। समाजवादी सरकार ने चुनाव में किए गए वायदों को पूर्ण किया है। कन्या विद्या धन योजना, छात्रों एवं छात्राओं को निःशुल्क लैपटाप वितरण, हमारी बेटी उसका कल योजना, बेरोजगारी भत्ता समेत विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों के माध्यम से प्रदेश की जनता को लाभान्वित किया जा रहा हैं। समाजवादी सरकार जनता के हित में कार्य कर रही हैं। प्रदेश सरकार द्वारा अभी बिजली खरीदकर आपूर्ति की जा रही है। शीघ्र ही गाँव-गाँव एवं घर-घर तक विद्युत आपूर्ति हेतु दो विद्युत कारखानों की स्थापना की जायेगी। उन्होंने कहा कि जनता का पैसा जनता के विकास पर ही खर्च किया जा रहा हैं।
इस अवसर पर मुख्यमन्त्री ने राजकीय पॉलीटेक्निक पुवायां, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मीरानपुर कटरा, गोहपुर से सुल्तानपुर तक संपर्क मार्ग, पीलीभीत बस्ती मार्ग, कि0मी0 68 से महुआ मैनिया संपर्क मार्ग, नरेन्द्रा पुर संपर्क मार्ग, चक कन्धउ संपर्क मार्ग, रतन पुर कुण्डा से बसरेहा खुर्द संपर्क मार्ग, पलिया संपर्क मार्ग कुल 14.65 करोड़ रुपए लागत की परियोजनाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने रेल उपरिगामी सेतु रेलवे सम्पार शिवरा से वैबहा संपर्क मार्ग, जश्न पुर बरेण्डा नहर की पुलिया होते हुए नगला जाजू संपर्क मार्ग, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जलालाबाद, मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय भवन, प्लास्टिक सर्जरी एवं बर्न यूनिट निर्माण, मिर्जापुर पपौर मार्ग से नगर गौहटिया तक संपर्क मार्ग, बिहारी मार्ग से हरभारन पुर तक संपर्क मार्ग निर्माण हेतु कुल 46 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने गेहूँ में अधिक उपज प्राप्त करने वाले किसान सत्यपाल सिंह, आनन्द कुमार, देश पाल सिंह, महेश चन्द्र, देवेन्द्र सिंह कोचर को सम्मानित भी किया।
सांसद मिथिलेश कुमार ने मुख्यमन्त्री का स्वागत करते हुए कहा कि यह चीनी मिल कई वर्षो से बन्द थी, जिसे फिर से चालू कर मुख्यमन्त्री ने पुवायां क्षेत्र के किसानों को बहुत बड़ी सौगात दी है। यहां का किसान अब आर्थिक रूप से मजबूत होगा और उसको अपने गन्ना विक्रय हेतु इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। इस अवसर पर कारागार मन्त्री राजेन्द्र चौधरी, पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्य मन्त्री राम मूर्ति सिंह वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि, प्रमुख सचिव गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग राहुल भटनागर सहित अन्य अधिकारीगण तथा बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

उधर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज मेरठ में राधा गोविन्द इंजीनियरिंग कॉलेज में निर्मित होने वाले प्रेक्षागृह का शिलान्यास किया। इस अवसर पर कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी तथा श्रम एवं सेवायोजन राज्यमंत्री शाहिद मंजूर भी उपस्थित थे।

मेरठ में राधा गोविन्द इंजीनियरिंग कॉलेज में निर्मित होने वाले प्रेक्षागृह का शिलान्यास करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
मेरठ में राधा गोविन्द इंजीनियरिंग कॉलेज में निर्मित होने वाले प्रेक्षागृह का शिलान्यास करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

Leave a Reply