कड़ी सुरक्षा के बीच जेल गये स्वामी कमलानंद

मंदिरों की सुरक्षा के लिए कार्य करने वाली हिंदू देवालय परिरक्षणा समिति के अध्यक्ष स्वामी कमलानंदा भारती को अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। कई

कड़ी सुरक्षा के बीच जेल गये स्वामी कमलानंद
कड़ी सुरक्षा के बीच जेल गये स्वामी कमलानंद

हिन्दू संगठनों ने उनकी गिरफ्तारी पर विरोध जताया है। उवैसी की ही तरह कमलानंद पर भी भड़काऊ भाषण देने का आरोप है।

उल्लेखनीय है कि आंध्र प्रदेश में मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलमीन (एमआइएम) के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने धर्म को आधार बना कर निंदनीय भाषण दिया था, जिस पर पुलिस गिरफ्तार कर उवैसी को जेल भेज चुकी है। उवैसी की ही तरह बाद में कमलानंदा भारती ने भी भड़काऊ भाषण दिया था, जिस पर रहमान नाम के युवक ने दस जनवरी को हैदराबाद के मीरचौक थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले में डीसीपी एम किसटैया ने बताया कि कमलानंद भारती विरुद्ध केस दर्ज कर मामला विशेष जांच दल (एसआइटी) के हवाले कर दिया गया था और रविवार को एसआइटी ने कुरनूल जिले के श्रीसाईलाम शहर से कमलानंद भारती को गिरफ्तार कर लिया था। सोमवार को कमलानंदा को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। कमलानंदा को कड़ी सुरक्षा के बीच चेरलापल्ली केंद्रीय जेल में भेजा गया है। उधर विहिप और अन्य हिंदू संगठनों ने कमलानंद की गिरफ्तारी का विरोध किया है। संगठनों का कहना है कि स्वामी कमलानंदा को मकर संक्रांति के दिन श्रीसाईलाम में धार्मिक कार्य के दौरान गिरफ्तार नहीं करना चाहिए था।

 

 

Leave a Reply