कड़कड़ाती ठंड में भी सैफई महोत्सव का पारा चढ़ा

सैफई महोत्सव में जलवा बिखेरते कलाकार

जनपद इटावा के गाँव सैफई में चल रहा चर्चित महोत्सव पूरे शबाब पर है। सत्ताधारी परिवार को चेहरा दिखाने और मस्ती करने के इरादे से प्रदेश भर से वीवीआईपी नेता और अफसरों के पहुँचने का सिलसिला जारी है, जिससे स्थानीय अधिकारियों की मस्ती पर ग्रहण लग गया है।

महोत्सव में सब कुछ है। छोटे, बड़े, बच्चे और महिलायें जम कर मस्ती कर रहे हैं। कल रात गजल गायक कृष्णानंद और कीर्ति मिश्रा ने कड़कड़ाती ठंड में गर्मी का अहसास करा दिया। उनकी प्रस्तुति के अंदाज़ ने ऐसा जादू बिखेरा कि एक भी श्रोता अपनी जगह से हिला तक नहीं। इसी तरह पिछली रात कलाकारों के साथ श्रोता ऐसे मस्त हुए कि खुद को ही भूल गये। साजिद-वाजिद की जोड़ी ने हंगामा बरपा दिया, वहीं रश्मी देसाई, टीना दत्ता, कश्मीरा शाह, नतालिया कौर और करिश्मा ईरानी की अदाओं पर श्रोता आहें भरते देखे गये। उक्त कार्यक्रमों में सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गुलाम-उल-मदार, प्रदर्शनी समिति के महासचिव शैलेंद्र कुमार भाटिया, न्यायिक मजिस्ट्रेट दीनानाथ, संयोजक रमाशंकर चौधरी वरिष्ठ कोषाधिकारी, संजय सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। कार्यक्रम के समापन के बाद कलाकारों का सम्मान अध्यक्ष सांसद धर्मेन्द्र यादव, संयोजक तेज प्रताप सिंह यादव, कार्यकारी प्रबंधक वेदव्रत गुप्ता, लक्ष्मीपति वर्मा, आशीष राजपूत और चंदगीराम यादव ने किया।

गजल गाते कृष्णानंद और कीर्ति मिश्रा

उधर सैफई महोत्सव सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के गाँव में आयोजित किया जाता है। बड़े राजनैतिक परिवार की देखरेख में आयोजित होने वाले इस महोत्सव में विशेष व्यवस्थाएं रहती हैं। वर्तमान में प्रदेश में सपा की सरकार है। सपा सुप्रीमो के बेटे अखिलेश यादव मुख्यमंत्री हैं, सो प्रदेश के अधिकाँश नेता और बड़े अफसर सैफई में पहुँच कर उपस्थित दर्ज कराना चाहते हैं। बड़ी संख्या में नेता और अफसर प्रतिदिन पहुँच भी रहे हैं, जिससे स्थानीय अफसर परेशान हो उठे हैं। आसपास के सभी होटल और गेस्ट हाउस फुल चल रहे हैं, ऐसे में वीवीआईपी को रोकना स्थानीय अफसरों को बेहद मुश्किल काम साबित हो रहा है, साथ ही सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखना है, इसलिए स्थानीय अफसर झल्लाये से नज़र आते हैं।

 

Leave a Reply