कोर्ट ने पुलिस हिरासत में भेजे संपादक

– अन्य मीडिया घरानों पर उठने लगीं उँगलियाँ

– कोयला घोटाले की ख़बरें दबने से उठे सवाल

अन्य मीडिया घरानों पर उठने लगीं उँगलियाँ

जी न्यूज और जी बिजनेस के संपादकों को आज दिल्ली के साकेत कोर्ट ने दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। इस प्रकरण से समूचे मीडिया जगत में हलचल मची हुई है, वहीं नवीन जिंदल की ख़बरें दब गई हैं, जिससे पूरे प्रकरण में साजिश की आशंका भी जताई जा रही है।

आरोप है कि जी ग्रुप ने कोयला घोटाले से जुड़ी ख़बरें प्रसारित न करने के बदले कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल से सौ करोड़ रुपये मांगे थे। लगभग डेढ़ महीने पहले नवीन जिंदल की कंपनी ने उक्त पत्रकारों के विरुद्ध दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच में मुकदमा दर्ज कराया था, इसी आरोप में पुलिस ने मंगलवार को जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी और जी बिजनेस के प्रमुख समीर को गिरफ्तार किया। आज दोनों आरोपी पत्रकारों को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने दोनों को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।

इस प्रकरण में नवीन जिंदल ने पिछले महीने एक सीडी जारी की थी, जिसमें दोनों आरोपी पत्रकार जिंदल ग्रुप के अधिकारियों से रिश्वत मांग रहे थे। पूरा मामला अब कोर्ट के संज्ञान में है, जिसमें सही-गलत का निर्णय हो ही जाएगा, लेकिन अब सवाल यह भी उठने लगा है कि कोयला घोटाले में संलिप्त जिंदल ग्रुप की ख़बरें क्यूं दबती जा रही हैं। कहीं अन्य मीडिया घरानों ने जिंदल से समझौता तो नहीं कर लिया? उल्लेखनीय है कि कोयला घोटाले में कैग की रिपोर्ट के अनुसार लाभ लेने वाली कंपनियों में जिंदल ग्रुप का भी नाम है।

Leave a Reply