कोतवाली के नजदीक पूर्व विधायक को गोलियों से भूना

– बवाल के दौरान पुलिस की गोली से युवक की मौत

– तीन हत्याओं से इलाके में दहशत, स्थिति तनाव पूर्ण 

कोतवाली के नजदीक पूर्व विधायक को गोलियों से भूना
कोतवाली के नजदीक पूर्व विधायक को गोलियों से भूना

पूर्व विधायक सर्वेश सिंह उर्फ सीपू सहित दो लोगों की हत्या के बाद हुये बवाल के दौरान पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, जिससे एक और व्यक्ति की मौत हो गई। तीन हत्याओं के चलते समूचे इलाके में स्थिति बेहद तनाव पूर्ण है। प्रदेश के बड़े अफसर घटना से संबंधित पल-पल की जानकारी ले रहे हैं, लेकिन हमलावर अभी भी फरार हैं।

आजमगढ जिले में स्थित सगड़ी विधान सभा क्षेत्र से वर्ष 2007 में सपा के टिकट पर विधायक रह चुके सर्वेश सिंह उर्फ सीपू आज सुबह लगभग दस बजे अपने जीयनपुर आवास से निकलकर गाड़ी में बैठने जा रहे थे, तभी बाइक सवार अज्ञात लोगों ने गोलियों की बौछार कर दी, जिससे सर्वेश सिंह के साथ भरत राय मौके पर ही गिर गए और दम तोड़ दिया, इसके बाद उनके आक्रोशित समर्थकों ने बवाल शुरू कर दिया। घटना स्थल से कोतवाली की दूरी मात्र सौ मीटर है, जिस पर आक्रोशित भीड़ ने हमला बोल दिया, वज्र वाहन और बाइक फूँक दी, आगजनी की घटना के बाद पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, जिसमें जितेन्द्र नाम के एक और युवक की मौत हो गई, साथ ही तमाम लोग घायल हुये हैं। पुलिस और पब्लिक के बीच झड़प जारी है, जिससे अभी भी शव मौके पर ही पड़े हैं।प्रदेश के बड़े अफसर पल-पल की जानकारी ले रहे हैं, लेकिन हमलावर पुलिस की पहुँच से अभी भी दूर हैं।

अमर सिंह के सपा छोडने पर सर्वेश सिंह ने भी सपा छोड़ दी थी और बसपा की सदस्यता ग्रहण कर पिछला चुनाव बसपा के टिकट पर ही लड़े थे, लेकिन हार गए, लेकिन इलाके सर्वेश सिंह की धमक रही है। उधर बताया जा रहा है कि जेल में बंद आजमगढ़ के कुख्यात अपराधी ध्रुव कुमार उर्फ पुन्टू सिंह और सर्वेश सिंह के बीच बर्चस्व को लेकर पिछले कुछ समय से जंग छिड़ी हुई थी, यह घटना उसी जंग का दुष्परिणाम हो सकती है। विधान सभा में विपक्ष के बसपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने घटना को लोकतन्त्र की हत्या करार दिया है।

Leave a Reply