किसानों की समस्याओं का प्राथमिकता पर हो निदान: बनवारी

  • दो लाख 78 हजार वितरित कर मनाया गया किसान सम्मान दिवस
राजकीय इण्टर कालेज स्थित प्रांगण में आयोजित किसान मेला में किसानों को संबोधित करते एमएलसी बनवारी सिंह यादव
राजकीय इण्टर कालेज स्थित प्रांगण में आयोजित किसान मेला में किसानों को संबोधित करते एमएलसी बनवारी सिंह यादव

बदायूं में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह के जन्म दिवस को आज किसान सम्मान दिवस के रूप में मनाने हेतु कृषि मेले का आयोजन कर एक सौ दस किसानों को दो लाख 78 हजार पांच सौ रूपए की धनराशि के साथ शाल उढ़ाकर एवं प्रशस्ति पत्र भेंट कर एमएलसी बनवारी सिंह यादव, डीएम चन्द्रप्रकाश त्रिपाठी, मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह, सांसद के प्रतिनिधि अवधेश कुमार एवं सुरेश पाल सिंह चौहान ने जनपद के प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया।
प्रदेश सरकार के निर्देश पर राजकीय इण्टर कालेज स्थित प्रांगण में आयोजित किसान मेला एवं सम्मान दिवस पर विभिन्न विभागों तथा निजी संस्थानों द्वारा अपनी-अपनी प्रर्दशनी लगाई। एमएलसी बनवारी सिंह यादव ने किसान मेले का फीता काटकर उद्घाटन किया और चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। किसान मेले में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना अन्तर्गत प्रगतिशील तीन गन्ना काश्तकारों को प्रथम पुरस्कार के रूप में ग्राम कुण्डेली के संजीव कुमार को 15000रू0, द्वितीय ग्राम चन्दऊ के ओमकार को 10000रू0 तथा तृतीय पुरस्कार के रूप में ग्राम चन्दऊ के केदार सिंह को 7500 रू0 का चैक वितरण कर सम्मानित किए जाने के साथ ही कृषि विभाग द्वारा प्रथम पुरस्कार के रूप में 16 किसानों को 3500 रू0 प्रति किसान तथा द्वितीय पुरस्कार के रूप में 16 किसानों को 2500 रू0 प्रति किसान के रूप में तथा ब्लाक स्तरीय 75 किसानों को 2000 रू0 प्रति किसान की दर से धनराशि, शाल तथा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कृषि विभाग द्वारा दी जाने वाली धनराशि किसानों के बैंक खातों में भेजी जाएगी।

राजकीय इण्टर कालेज स्थित प्रांगण में आयोजित किसान मेला में उपस्थित किसान
राजकीय इण्टर कालेज स्थित प्रांगण में आयोजित किसान मेला में उपस्थित किसान

विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसानों की प्रगति पर ही देश की खुशहाली निर्भर है। उन्होंने कहा कि जनपद के किसानों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाए। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक तरीके से खेती करने से किसान अधिक मुनाफा कमा सकते हैं। चौधरी चरण सिंह के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनका जन्म मेरठ जिले के ग्राम नूरपुर में वर्ष 1902 में 23 दिसम्बर को हुआ था जिन्होंने किसानों के हितों की लड़ाई लड़ी और प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुँच कर किसानों की सेवा की।
मुख्य विकास अधिकारी उदयराज सिंह ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया किसानों से अपील की कि वह कृषि सम्बंधी समस्याओं के समाधान के लिए विकास भवन स्थित उनके कार्यालय में भेंट कर सकते हैं। कार्यक्रम में जिलाधिकारी चन्द्रप्रकाश त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि प्रसार अनिल कुमार तिवारी, जिला गन्ना अधिकारी हरपाल सिंह सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply