कांडा को पहले से ही ज्ञात था अपने पतन का कारण

– एक महात्मा ने उसे बताया था कि एक लड़की बनेगी उसके पतन का कारण

– भविष्यवाणी के बावजूद नहीं छोड़ पाया लड़कियों के प्रति दिवानगी की लत

गीतिका प्रकरण में तिहाड़ में बंद गोपाल गोयल कांडा
गीतिका प्रकरण में तिहाड़ में बंद गोपाल गोयल कांडा

फर्श से अर्श तक का सफ़र तय करने वाले हरियाणा के पूर्व गृह राज्यमंत्री गोपाल गोयल कांडा को पहले से ही ज्ञात था कि उसके पतन का कारण एक लड़की ही बनेगी, फिर भी उसने अपने कुकृत्यों में कोई सुधार नहीं किया और एयरहोस्टेस गीतिका शर्मा की आत्म हत्या ने उसे बर्बाद कर ही दिया। गीतिका की आत्म हत्या के मुख्यारोपी के रूप में वह फिलहाल तिहाड़ में बंद है और गीतिका की माँ की आत्म हत्या के बाद उसके बच निकलने की संभावनाएं क्षीण होती जा रही हैं। भय का आलम यह है कि अनुराधा की आत्म हत्या की खबर सुनने के बाद उसके चेहरे की हवाइयां उड़ गईं और उस दिन वह खाना तक नहीं खा पाया। सूत्रों का कहना है कि वह अभी तक सहज नहीं हो पाया है।

गोपाल गोयल कांडा के नाम से कुख्यात हो चुके इस शख्स ने वर्ष 2007 में एमडीएलआर एयरलाइंस नाम से कंपनी खोली, जिसमें कुल तीन विमान थे, पर मानसिक तौर पर विकृत इस शख्स ने 60 एयरहोस्टेस की नियुक्ति की थी। कांडा की अन्य कंपनियों में कुल 250 कर्मी थे, जिनमें 150 से अधिक महिलाएं ही थीं। स्तब्ध कर देने वाली बात यह है कि एयरलाइंस एक साल में ही बंद हो गई, लेकिन कांडा ने 60 एयरहोस्टेस में से एक को भी नौकरी से नहीं निकाला, सभी को अन्य कंपनियों में स्थानांतरित कर समायोजित कर दिया गया, जिनमें नूपुर मेहता, गीतिका शर्मा और अंकिता सिंह को गोवा स्थित कैसीनो में भेजा गया था। एयरहोस्टेस रह चुकी अंकिता की बहन श्वेता सिंह इस बात की पुष्टि कर चुकी है। लड़कियों के दीवाने गोपाल कांडा की कंपनियों में ऊंचे पदों पर अधिकतर लड़कियों का ही कब्जा था। उसकी कुल 39 कंपनियों में 20 की डायरेक्टर लड़कियां ही हैं, जिनमें नूपुर एमडीएलआर कंपनी में वाइस प्रेसीडेंट के पद पर कार्यरत थीं।

देश के बाहर भी कुख्यात हो चुके इस शख्स की कहानी एक दम फिल्मों की तरह ही है। किसी समय हरियाणा के सिरसा में कॉमिक्स-नॉवल और वीसीपी किराये पर देकर आजीविका चलाने वाला यह शख्स कुछ ही समय में सितारों को छू लेने के करीब पहुँच गया और देखते ही देखते अरबों की संपत्ति का मालिक बनने के साथ हरियाणा का गृह राज्यमंत्री तक बन बैठा। आज उसके पास सिरसा में रानियां रोड पर एक विशाल और चर्चित बंगला है एवं गुड़गांव के सिविल लाइंस में भी एक आलीशान कोठी के साथ गुड़गांव-फरीदाबाद रोड पर एक विशाल फार्म हाउस, तीन दर्जन से अधिक कंपनियां, होटेल, बार, गोवा में केसीनो के साथ नामी और बेनामी तमाम संपत्तियां हैं। खैर, कांडा से एक महात्मा ने कहा था कि उसके पतन का कारण एक औरत बनेगी, पर लड़कियों के प्रति उसकी दीवानगी कम नहीं हुई और यही एक बुरी आदत ने उसे फिर अर्श से लाकर फर्श पर पटक दिया।

Leave a Reply