उत्तर प्रदेश: छः माह की अवधि के लिए हड़ताल निषिद्ध

  • उ0प्र0 अत्यावश्यक सेवाओं का अनुरक्षण अधिनियम सम्बन्धी अधिसूचना जारी
  • उ0प्र0 कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति के प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्य सचिव से भेंट की
  • वार्ता के बाद कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति द्वारा 21 नवम्बर को प्रस्तावित रैली स्थगित
उत्तर प्रदेश छः माह की अवधि के लिए हड़ताल निषिद्ध
उत्तर प्रदेश छः माह की अवधि के लिए हड़ताल निषिद्ध
राज्य कर्मचारियों के एक वर्ग द्वारा की जा रही हड़ताल के मद्देनजर राज्य सरकार ने लोकहित में उत्तर प्रदेश अत्यावश्यक सेवाओं का अनुरक्षण अधिनियम-1966 के अधीन प्रदत्त शक्ति का प्रयोग करते हुए हड़ताल को निषिद्ध किए जाने सम्बन्धी अधिसूचना जारी कर दी है।
राज्य सरकार के प्रवक्ता ने इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि अधिसूचना के गजट में प्रकाशित होने की दिनांक से 6 माह की अवधि के लिए उत्तर प्रदेश के कार्यकलापों से सम्बन्धित किसी लोकसेवा में तथा उत्तर प्रदेश सरकार के स्वामित्वाधीन या नियंत्रणाधीन किसी निगम की सेवा में तथा किसी स्थानीय प्राधिकारी के अधीन किसी सेवा में हड़ताल को निषिद्ध घोषित किया गया है।

उधर उत्तर प्रदेश कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति ने दिनांक 21 नवम्बर, 2013 को समिति द्वारा प्रस्तावित रैली को स्थगित किए जाने का निर्णय लिया है। उ0प्र0 कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति के एक प्रतिनिधिमण्डल ने आज मुख्य सचिव जावेद उस्मानी से वार्ता के बाद यह निर्णय लिया। इस वार्ता के दौरान प्रमुख सचिव कार्मिक राजीव कुमार भी मौजूद थे।

मुख्य सचिव ने समन्वय समिति द्वारा उठाए गए सभी बिन्दुओं को गम्भीरता से सुना और आश्वासन दिया कि कर्मचारी और शिक्षकों की समस्याओं का हल सुनिश्चित किया जाएगा। जिन बिन्दुओं पर कठिनाइयां हैं, उन पर पुनः वार्ता होगी। इसे देखते हुए समन्वय समिति ने अपनी प्रस्तावित रैली को स्थगित किए जाने का निर्णय लिया है। प्रमुख सचिव कार्मिक राजीव कुमार ने समन्वय समिति को इसके लिए धन्यवाद ज्ञापित किया है। इस वार्ता के दौरान कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति के को-आर्डिनेटर
लल्लन पाण्डेय, प्रवक्ता बी0एल0 कुशवाहा, फील्ड कर्मचारी फेडरेशन के संरक्षक अमरनाथ यादव, शिक्षक विधायक जगवीर किशोर जैन, प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष लल्लन मिश्रा, राज्य कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष कमलेश मिश्रा, फील्ड कर्मचारी फेडरेशन के संयोजक रामेश्वर प्रसाद पाण्डे, उ0प्र0 जल संस्थान कर्मचारी महासंघ के महामंत्री नेबूलाल, उ0प्र0 राज्य निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष एस0ए0एच0 जैदी एवं महामंत्री मनोज मिश्रा उपस्थित थे।

Leave a Reply