आसाराम की गिरफ्तारी को लेकर जोरदार प्रदर्शन

  • कुकर्मी आसाराम के विरुद्ध शाहजहाँपुर में उबाल
  • आक्रोशित लोगों ने आसाराम का पुतला फूँका
  • जोधपुर पुलिस से तत्काल गिरफ्तारी की मांग की
  • शाहजहांपुर की ही है आसाराम की सताई लड़की
शाहजहांपुर में आसाराम की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन करते आक्रोशित लोग
शाहजहांपुर में आसाराम की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन करते आक्रोशित लोग

कथित धार्मिक गुरु आसाराम बापू की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आज शाहजहांपुर में जोरदार प्रदर्शन किया गया। आक्रोशित लोगों ने आसाराम के स्थानीय आश्रम का पूरी तरह बहिष्कार भी कर दिया है, साथ ही शीघ्र ही गिरफ्तारी नहीं हुई, तो प्रदर्शन आंदोलन का भी रूप ले सकता है।

उल्लेखनीय है कि कथित धार्मिक गुरु आसाराम बापू के कुकृत्य की शिकार लड़की शाहजहांपुर की ही निवासी है। पीड़ित राजस्थान के छिंदवाड़ा स्थित आसाराम के गुरुकुल में 12वीं क्लास में पांच साल से पढ़ रही थी। इस छात्रा ने बुधवार को यह आरोप लगाया था कि आसाराम बापू के लोग उसे अनुष्ठान के बहाने दूसरे आश्रम में ले गए और वहां उसका आसाराम ने यौन शोषण किया, साथ ही बंधक बना कर जान से मारने की धमकी भी दी। दिल्ली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर विवेचना के लिए मामला जोधपुर पुलिस को भेज दिया था, क्योंकि घटना स्थल वहीं का है। दिल्ली पुलिस ही पीड़ित को दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराने को ले गई थी, जिसमें बलात्कार की पुष्टि हो गई है।

शाहजहांपुर स्थित आसाराम के आश्रम में पसरा सन्नाटा
शाहजहांपुर स्थित आसाराम के आश्रम में पसरा सन्नाटा

आसाराम के कुकृत्य की सूचना शाहजहांपुर पहुंची, तो यहाँ लोग उबल उठे। शोषित समाज मोर्चा के नेतृत्व में आज आक्रोशित लोगों ने आसाराम का पुतला फूँका और उसके कुकर्मों की निंदा करते हुए जोधपुर पुलिस से तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। उधर शाहजहांपुर के आक्रोशित लोगों ने आसाराम के स्थानीय आश्रम का पूरी तरह से बहिष्कार कर दिया है, जिससे आश्रम पर सन्नाटा छा गया है। सूत्रों का कहना है कि आसाराम की शीघ्र ही गिरफ्तारी नहीं हुई, तो प्रदर्शन आन्दोलन का भी रूप ले सकता है, जिससे स्थानीय पुलिस चिंतित नज़र आ रही है।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

रेप की पुष्टि, आसाराम की गिरफ्तारी को लेकर संशय

नित्यानंद और चिन्मयानंद की सूची में आसाराम भी शामिल