आरक्षण पर बवाल: इलाहाबाद में धारा 144 लागू

नई आरक्षण नीति के विरोध में पथराव करते उग्र छात्र।
नई आरक्षण नीति के विरोध में पथराव करते उग्र छात्र।

लोकसेवा आयोग की नई आरक्षण नीति के विरोध में हुये उग्र प्रदर्शन के चलते इलाहाबाद में धारा 144 लागू कर दी गई है, साथ ही प्रदर्शन करने वाले 20 छात्रों के विरुद्ध नामजद और 2500 अज्ञात के विरुद्ध सिविल लाइंस थाने में मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।

पीसीएस परीक्षा के हर चरण में आरक्षण लागू करने की उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की नई नीति के विरुद्ध युवाओं में गहरा रोष है और विरोध उग्र प्रदर्शन में बदल गया है। नई आरक्षण नीति का विरोध प्रदर्शन धीरे-धीरे शहर के बड़े हिस्से में फैल गया, तो प्रशासन की सांसें थम गईं। आक्रोशित युवाओं ने सपा के झंडे और होर्डिग्स को प्रमुख से रूप से निशाना बनाते हुये जम कर तोड़-फोड़ की। सीएमपी डिग्री कॉलेज के पास तोड़फोड़ व आगजनी की घटना के बाद पुलिस ने छात्रों को नियंत्रित करने के लिए कई बार लाठियां भी चलाईं। हालात बिगड़ने के बाद शाम को लोक सेवा आयोग के सचिव के साथ छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने वार्ता की। सचिव ने छात्रों को हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार पीसीएस परीक्षा 2011 में आरक्षण के प्रावधानों में परिवर्तन करने का आश्वासन भी दिया। असलियत में छात्रों को उम्मीद थी कि मामले में दायर याचिका पर हाईकोर्ट स्थगनादेश जारी कर देगा, पर ऐसा नहीं हुआ, जिससे छात्र उग्र हो उठे। हाईकोर्ट ने इस मामले में राज्य सरकार से 22 जुलाई तक जवाब दाखिल करने को कहा है।

Leave a Reply