आचार संहिता के बावजूद सपा के पक्ष में हुआ शिक्षक सम्मेलन

एक महिला का अभिवादन स्वीकार करते सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव
एक महिला का अभिवादन स्वीकार करते सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव

आचार संहिता के बावजूद बदायूं लोकसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी व सांसद धर्मेन्द्र यादव ने आज बदायूं नगर के सभी सरकारी व गैर सरकारी शिक्षकों से भेंट की और उनसे समर्थन देने का आह्वान किया। इस मौके पर धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि पिछले पांच वर्षो में बदायूं में एक मेडिकल कॉलेज, दो डिग्री कॉलेज, चार इण्टर कॉलेज, तीन आई.टी. कॉलेज, एक पालिटेक्निक और आठ हाई स्कूल खोले गये हैं। छात्र-छात्राओं का मनोबल बढ़ाने व आगे की शिक्षा हासिल कराने के लिए 8147 छात्रों को लैपटॉप 2649 छात्राओं के लिए कन्या विद्याधन, 2371 बेटियों को हमारी बेटी, उसका कल व 150 छात्राओं के लिए छात्रावास की सुविधा आदि योजनाऐं प्रदेश सरकार द्वारा बदायूं जनपद के लिए दी गयी हैं।

उन्होंने आगे कहा कि पूरे बदायूं के शिक्षक समाजवादी पार्टी के साथ हैं। सपा सरकार की योजनाओं का बखान करते हुये कहा कि आपके अकेले जनपद बदायूं में सपा सरकार के खजाने से शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जब तक बदायूं की शिक्षा का स्तर इलाहाबाद, बनारस, लखनऊ सहित अन्य बडे जनपदों जैसा नहीं हो जाता, तब तक शिक्षा के क्षेत्र में विकास कार्य करता रहूँगा, क्योंकि शिक्षा ही देश और जिन्दगी की रोशनी है। शिक्षकों ने सांसद धर्मेन्द्र यादव को विकास पुरूष से नवाजा।

बिल्सी विधान सभा क्षेत्र के गांव में सांसद धर्मेन्द्र यादव बोले कि समाज का हर वर्ग हमारे साथ है। जिन लोगों ने वर्ष 2009 में समर्थन नहीं दिया था, आज वो भी मेरे विकास कार्य से संतुष्ट होकर चुनाव लड़ा रहे हैं। गाँव पुसगवां, बेहटा जबी, खुलैट, हैबतपुर, सतेती, रायपुर मजरा, रिसौली, अकौली, सिद्धपुर चित्रसेन, अम्बियापुर, दिधौनी, बैरमई बुजुर्ग, गुधनी, नागर झूना, साहसपुर, सिमर्रा भोजपुर, बांस बरौलिया, खैरी सहित दर्जनों गांव में भ्रमण कर जनसम्पर्क किया। गाँव सतेती में नुक्कड़ सभा को सम्बोधित करते हुये कहा समाजवादी पार्टी विकास के नाम पर जनता के बीच में आयी है। आजादी से लेकर आज तक 67 सालोें में किसी ने भी बदायूं का विकास नहीं किया। अखिलेश सरकार की योजनाओं से प्रदेश की जनता संतुष्ट होकर सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव को सर्वोच्च कुर्सी पर बैठाने का मन बना चुकी है। जितने भी प्रदेश व जनपद में विकास कार्य चल रहे हैं या प्रदेश सरकार के खजाने से हो रहा है। यदि नेताजी को दिल्ली की चाबी मिलेगी, तो उत्तर प्रदेश, उत्तम प्रदेश बनेगा।
उनके साथ में जिलाध्यक्ष व दर्जा राज्यमंत्री मंत्री बनवारी सिंह, पूर्व दर्जा मंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल, सपा शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डा. पंकज कुमार, प्रधान सर्वेश यादव, विधान सभा क्षेत्र अध्यक्ष टेड़ामल, अजमल खान, अनिल जैन, रहीस अहमद, योगेन्द्र पाल शर्मा, सुरेश पाल सिंह चौहान, पूर्व प्रधान छोटेलाल, रंजीत वार्ष्णेय, मुवीन फरीदी सहित प्रमुख नेता मौजूद रहे।
सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव के आवास पर जनपद भर के मन्दिरों के सैकड़ों पुजारियों ने धर्मेन्द्र यादव को जीत का आर्शीवाद दिया और अपनी समस्याऐं भी बतायीं। मुख्य रूप से पुजारी प्रभात कुमार शर्मा, सुरेन्द्र पाण्डेय, कौशल शंखधार, सत्यपाल शर्मा व विनोद मिश्रा ने जीत का आशीर्वाद दिया।

सम्मेलन में शिक्षकों को संबोधित करते सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव
सम्मेलन में शिक्षकों को संबोधित करते सपा प्रत्याशी धर्मेन्द्र यादव

उधर मत्स्य निगम चेयरमैन व दर्जा मंत्री राजपाल कश्यप ने बदायूं लोकसभा क्षेत्र के ग्राम वितरोई, पीरनगर, संजरपुर, अढौली, रिसौली, अकौली, बरामालदेव, अब्दुल्लागंज, बरसुआ, आदि गांव में घर-घर जाकर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को जिताने का आह्वान किया। इसी तरह युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव अनुराग यादव ने गाँव अजनावर, सर्वा, भटपुरा, कैन्डौला, पिसनहारी, सैदसराय, जगतुआ, सराय, उल्ला, जाफरपुर, नौना, कुंवरपुर, बालपुर, चन्दोई, टिकोली आदि गांव में गहन जनसम्पर्क किया। उनके साथ में ओ.पी. यादव, दधीच यादव, शेख शहनवाज, योगेश दीक्षित, महेन्द्र यादव, आलोक यादव, विजय यादव, शहनवाज हुसैन, रामवीर सिंह, आशीष गर्ग, सोभित सक्सेना आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply