आंध्रप्रदेश, हरियाणा और पंजाब के लिए मनहूस साबित हुआ सोमवार, 80 से अधिक की मौत

आंध्र प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के लिए सोमवार का दिन मनहूस साबित हुआ। हृदय विदारक दुर्घटनाओं में लाशों के ढेर लग गए हैं। दुर्घटना स्थलों के साथ मृतकों के परिजनों में हाहाकार मच गया है। सोमवार सुबह पहली मनहूस खबर आई कि दिल्ली से चेन्नई जा रही तमिलनाडु एक्सप्रेस में आग लग गई है, जिसमें भारी जनहानि हुई है। मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा कर दी गई है।

आंध्र प्रदेश में नेल्लोर रेलवे स्टेशन से चेन्नई की ओर निकालने के बाद तमिलनाडू एक्सप्रेस की बोगी एस-11 बोगी में सुबह लगभग 5:30 बजे आग लग गई। बताया जा रहा है कि दुर्घटना में लगभग 50 यात्री जिंदा जल गए हैं और बीस के करीब गंभीर रूप से घायल हैं, जिनको करीब के अस्पतालों में भर्ती करा दिया गया है, लेकिन मृतकों की सही संख्या की जानकारी अभी रेलवे नहीं दे पा रहा है। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। मौके पर जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अफसरों के साथ रेलवे के अधिकारी भी पहुँच गए हैं। रेल मंत्री मुकुल राय ने आर्थिक मदद देने का ऐलान कर दिया है।

इसी तरह हरियाणा के भिवानी में भी हृदय विदारक हादसा हुआ। सोमवार सुबह सेनिवास गाँव के पास हुए सड़क हादसे में 32 श्रद्धालुओं के मरने की सूचना है। हिसार-राजगढ़ रोड पर राजस्थान के अमरपुरा धाम से श्रद्धालुओं से भरा कैंटर लौटते समय एक ट्रक से टकरा गया, जिससे 28 लोगों की मौत मौके पर ही और चार लोगों की मौत अस्पताल में उपचार के समय हो गई। कई घायलों की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। कैंटर में कुल 40 लोग सवार थे। तेज गति के कारण हादसे में कैंटर के परखच्चे उड़ गए। अधिकांश श्रद्धालु कैथल जिले में पड़ने वाले कलायत कस्बे के ही हैं। स्थानीय प्रशासन की लोगों ने भी मदद की।

पंजाब की घटना ने मासूमों को लील लिया। अमृतसर जिले के ब्यास में एक वैन बच्चों को स्कूल ले जाते समय पैसेंजर ट्रेन से टकरा गयी। इस दुर्घटना में पाँच बच्चों की मौत हो गयी और लगभग 10 ज़ख्मी हो गए। मानवरहित फाटक पर यह हादसा हुआ जब 21 बच्चों को ले जा रही स्कूल वैन ट्रेन टकरा गयी। घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है और हादसे के कारणों की जांच की जा रही है।

 

 

Leave a Reply