अशोक खेमका की रिपोर्ट में रॉबर्ट वाड्रा दोषी सिद्ध

– देश की सब से शक्तिशाली महिला के दामाद हैं रॉबर्ट वाड्रा

धोखाधड़ी से जमीन हथियाने के दोषी रॉबर्ट वाड्रा
धोखाधड़ी से जमीन हथियाने के दोषी रॉबर्ट वाड्रा

देश की सब से शक्तिशाली महिला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गाँधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने फर्जी कागजातों के जरिये जमीन हथियाई है। यह खुलासा आईएएस अशोक खेमका की रिपोर्ट में किया गया है। जाँच रिपोर्ट हरियाणा सरकार को सौंप दी गई है।

उल्लेखनीय है कि हरियाणा के शिकोहपुर गांव में 3.53 एकड़ भूमि को लेकर रॉबर्ट वाड्रा विवादों में हैं और उन पर तमाम आरोप लग रहे हैं, इसी जमीन को लेकर आईएएस अशोक खेमका ने एक जवाबी रिपोर्ट तैयार की है, जिसमें कहा गया है कि शिकोहपुर गांव की 3.53 एकड़ भूमि को सिर्फ 7.5 करोड़ रुपये में खरीद कर तत्काल उसी जमीन को 58 करोड़ रुपये में डीएलएफ को बेच दिया गया, साथ ही वाड्रा और डीएलएफ के बीच पैसे का लेन-देन नहीं हुआ, सिर्फ कागजों पर फर्जी तरीके से जमीन का आदान-प्रदान किया गया एवं चेक नंबर फर्जी डाला गया।

धोखाधड़ी से जमीन हथियाने का खुलासा करने वाले आईएएस अशोक खेमका
धोखाधड़ी से जमीन हथियाने का खुलासा करने वाले आईएएस अशोक खेमका

बता दें कि अशोक खेमका ने शुरू में ही फर्जीवाड़ा होने की बात कही थी, जिस पर ध्यान देने की जगह सरकार ने उनका तबादला कर दिया। खेमका की रिपोर्ट के अनुसार रॉबर्ट वाड्रा ने हेराफेरी कर रजिस्ट्रेशन एक्ट 82 का उल्लंघन ही नहीं किया, बल्कि 2 माह के अन्दर ही 50 करोड़ से अधिक का मुनाफा कमा लिया। हालाँकि हरियाणा सरकार ने इस फर्जीवाड़े की जांच करने के लिए तीन सदस्यों की एक जांच समिति गठित की थी, जिसने रॉबर्ट वाड्रा को क्लीन चिट दे दी थी, पर अब अशोक खेमका की तथ्य परक रिपोर्ट आने से तहलका मच गया है, इस मामले में रॉबर्ट वाड्रा दोषी पाए गए, तो उन्हें सात वर्ष तक की सजा सुनाई जा सकती है।

Leave a Reply