अवैध नियुक्तियों की होगी जांच

उत्तर प्रदेश की संस्कृत पाठशालाओं में बसपा सरकार के कार्यकाल में हुई 16० प्रधानाचार्यों और 475 सहायक अध्यापकों की नियुक्तियों की उच्च स्तरीय जांच कराई जायेगी, जिससे अवैध रूप से नियुक्ति पा चुके लोगों की नींद उड़ गयी है। सरकार ने सवाल के जवाब में विधान सभा में जांच कराने के साथ मदरसा शिक्षकों की परेशानियां दूर करने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply