अधिकारियों-कर्मचारियों की छुट्टियां निरस्त

– क़ानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिया निर्णय
ईद का त्योहार और जल भरने जाने-आने का एक ही दिन होने के कारण आपसी सौहार्द और शांति व्यवस्था को बनाए रखने हेतु कानून व्यवस्था की दृष्टि से लगाए गए अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अवकाश को निरस्त करते हुए बदायूं में किसी भी अधिकारी को अवकाश देने पर प्रतिबंध लगाने के साथ संवेदनशीलता तथा सतर्कता बढ़ा दी गई है।

कानून व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए मंत्रणा करते अधिकारी
कानून व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए मंत्रणा करते अधिकारी

विकास भवन के सभा कक्ष में आयोजित कानून व्यवस्था की बैठक में जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने अध्यक्षता करते हुए कहा कि जिन अधिकारियों को कानून व्यवस्था में मजिस्ट्रेट बनाया गया है वह अपने तैनाती वाले स्थान पर सम्बंधित पुलिस अधिकारी के साथ संयुक्त रूप से मौजूद रहेंगे। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान उपस्थित न पाए जाने पर दण्डनीय कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि डयूटी पर लगाए गए सभी मजिस्ट्रेट शुक्रवार से सोमवार तक विशेष संवेदनशीलता के साथ अपने उत्तरदायित्वों का भलीभांति अंजाम दें। जिलाधिकारी ने आम जनता से अपील करते हुए कहा कि त्योहारों को आपसी सौहार्द और भाईचारे के साथ शांतिपूर्ण ढ़ंग से मनाया जाए।

जिलाधिकारी ने ईद के त्योहार और सावन माह के सोमवार को दृष्टिगत रखते हुए मस्जिदों और मंदिरों के आसपास विशेष सफाई व्यवस्था कराने तथा चूना आदि का छिड़काव कराने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने कछला मेला मजिस्ट्रेट एसडीएम सदर प्रदीप कुमार यादव को कछला घाट पर सफाई व्यवस्था के साथ-साथ रात्रि में जनरेटर भी चलवाने के निर्देश दिए है। जिलाधिकारी ने बैठक में मौजूद मुख्य विकास अधिकारी जयन्त कुमार दीक्षित को निर्देश दिए कि कि आगामी त्योहारों तक वह  किसी भी अधिकारी का अवकाश स्वीकृत न करें । एसपी सिटी मान सिंह चौहान ने कहा कि इन दिनों पूर्व की भांति रोड डायवर्ड रहेंगे।  उन्होंने कहा कि कछला घाट पर एक अलग पुलिस कंट्रोल रूम और वाच टावर बनाया गया है। सीएमओ डा. राजनीश पाल सिंह ने कहा कि किसी भी अनहोनी को दृष्टिगत रखते हुए एम्वोलेंस की व्यवस्था के साथ पीएचसी, सीएचसी पर चिकित्सकों की डयूटी लगाई गई है। उन्होंने कहा कि 108 नम्बर पर काल करने पर निकटतम चिकित्सालय पर एम्वोलेंस के उपस्थित न होने पर वह अपने कार्यालय में रिजर्व रखी एम्वोंलेंस को भेजा जाएगा। नगर मजिस्ट्रेट ने बड़े सरकार की ज़्यारत से कोतवाली होते हुए नवादा चौराहे तक के क्षेत्र को ज्यादा संवेदनशील मानते हुए विशेष सतर्कता बरतने को कहा है। इस अवसर पर सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply